उत्तर कोरिया से निपटने के लिए अमेरिका, दक्षिण कोरिया और जापान ने बनाया ये बड़ा प्लान

नई दिल्ली ( 11 दिसंबर ): उत्तर कोरिया ने परमाणु मिसाइल परीक्षणों के बाद अंतरमहाद्वीपीय मारक क्षमता वाले मिसाइल परीक्षण किया है। अब इसके अमेरिका, दक्षिण कोरिया और जापान ने उत्तर कोरिया से दागी जाने वाली मिसाइलों का पता लगाने के लिए सोमवार से एक संयुक्त मिसाइल ट्रैकिंग अभ्यास शुरू किया है। दक्षिण कोरिया की सेना ने इस बात की जानकारी दी। 

दो सप्ताह से भी कम समय पहले उत्तर कोरिया ने एक नये अंतर-महाद्वीपीय बलिस्टिक मिसाइल (आईसीबीएम) का प्रायोगिक परीक्षण करके घोषणा की कि उसने परमाणु शक्ति सम्पन्न देश का दर्जा हासिल कर लिया है। उत्तर कोरिया द्वारा अपने हथियारों के जखीरे में वृद्धि करने से वैश्विक चिंता बढ़ा दी है। दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि दो दिन का यह अभ्यास कोरियाई प्रायद्वीप एवं जापान के निकट स्थित समुद्र में शुरू किया गया। 

पिछले साल जून में इसी तरह का अभ्यास सम्पन्न हुआ था जिसके बाद इस तरह का यह छठा अभ्यास है। मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि अभ्यास में तीनों देशों के एक-एक युद्धक पोत शामिल हैं जो दुश्मन की मिसाइलों को मार गिराने की क्षमता रखते हैं। यह उत्तर कोरिया की ओर से आने वाले संभावित बलिस्टिक मिसाइलों का पता लगाने के लिए अभ्यास करेंगे और सूचनाएं साझा करेंगे।