BREAKING: अमेरिका ने पाकिस्तान को दिया सबसे बड़ा झटका, बताया आतंकियों का पनाहगाह

नई दिल्ली (19 जुलाई): अमेरिका ने पाकिस्तान को सबसे बड़ा झटका दिया है और आतंकवाद के मुद्दे पर उसे बेनकाब किया है। अमेरिका की स्टेट रिपोर्ट में दावा किया है कि पाकिस्तान आतंकवादियों को पनाह देने वाला देश है। अमेरिका ने पाकिस्तान को आतंकियों को ''सुरक्षित स्थान'' प्रदान करने वाले देशों की सूची में डाल दिया है। 

अमेरिका ने अपनी वार्षिक 'कंट्री रिपोर्ट ऑन टेररिज्म' में दावा किया गया है कि पाकिस्तान आतंकियों के लिए सुरक्षित जगह है। यानी पाकिस्तान अपनी धरती पर न सिर्फ आतंकवादियों को पनाह देता है, बल्कि वहां आतंकियों को ट्रेनिंग दी जाती है। रिपोर्ट में कहा गया है कि लश्कर-ए तैयबा और जैश-ए मोहम्मद जैसे संगठनों से जुड़े आतंकियों को ट्रेनिंग दी जाती है।
 
अमेरिका ने रिपोर्ट में कहा कि पाकिस्तान सरकार अफगान तालिबान और हक्कानी जैसे आतंकी समूहों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करता है। इसके अलावा पाकिस्तान ने लश्कर-ए तैयबा और जैश-ए मोहम्मद जैसे आतंकी समूहों के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया जबकि ये संगठन पाकिस्तान में लगातार आतंकियों को ट्रेनिंग दे रहे हैं और फंड इकट्ठा कर रहे हैं।

अमेरिकी स्टेट डिपार्टमेंट ने कहा कि पाकिस्तान में लश्कर-ए तैयबा पर प्रतिबंध होने के बावजूद उसके सहयोगी संगठन जमात-उद दावा और फलह-ए इंसानियत फाउंडेशन खुलेआम पाकिस्तान में फंड इकट्ठा कर रहे हैं।

अमेरिका ने साथ ही ये भी कहा है कि लश्कर चीफ हाफिज सईद को यूनाइटेड नेशंस ने आतंकी घोषित किया। बावजूद इसके वो पाकिस्तान की धरती पर सार्वजनिक रैलियां कर रहा है। हाफिज सईद ने फरवरी 2017 में भी रैली को संबोधित किया।