US ने सीरिया में अपने ही समर्थक लड़ाकों पर गलती से गिराया बम, 18 की मौत

नई दिल्ली ( 14 अप्रैल ): सीरिया में अमेरिकी नेतृत्व में किए गए हवाई हमलों में ISIS के खिलाफ लड़ रहे 18 कुर्दिश विद्रोहियों की मौत हो गई। अमेरिकी सेना ने इन मौतों की पुष्टि करते हुए कहा कि निशाने में हुई चूक की वजह से उनकी मिसाइलें सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्स (SDF) के इन कुर्दिश लड़ाकों पर जा गिरे।


पेंटागन ने कहा कि उनकी एक सहयोगी सेना ने गलती से इस लक्ष्य को आईएस के ठिकाने समझ लिया। मगर 11 अप्रैल को जो हमला हुआ उसमें मारे गए विद्रोही सीरियाई डेमोक्रेटिक फोर्स के विद्रोही थे जिन्हें अमरीका समर्थन देता है।


अमेरिकी केंद्रीय कमान ने गुरुवार को जारी बयान में बताया कि गलत कोऑर्डिनेट्स (अक्षांश और देशांतर के हिसाब से जमीन पर स्थिति) मिलने की वजह से मिसाइल गलत निशाने पर जा गिरी। बताया जाता है कि ये कोऑर्डिनेट्स एसडीएफ ने ही उन्हें भेजा था।