News

INSIDE STORY: US कांग्रेस करेगी PAK को आतंकी देश घोषित? जानिए #UriAttack के बाद कैसे अलग-थलग पड़ा पाकिस्तान...

डॉ. संदीप कोहली,

नई दिल्ली (21 सितंबर): उरी हमले के बाद पाकिस्तान चौतरफा निशाने पर है। यूनाइटेड नेशंस जनरल एसेंबली में स्पीच देने से पहले ही पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को एक बड़ा झटका लगा है। ये झटका किसी 440 वोल्ट के करंट से कम नहीं है। दुनिया की सबसे बड़ी सभा यूएन जनरल एसेंबली में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने पाकिस्तान को जमकर फटकार लगाई है। वहीं यूएन सिक्युरिटी काउंसिल के पांच स्थाई सदस्यों में से चार अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन और रूस भारत के समर्थन में खुलकर सामने आ गए हैं। दूसरी तरफ अमेरिकी कांग्रेस में पाक को आतंकी देश करार दिए जाने के लिए बिल पेश किया गया है। उरी हमले के बाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान अकेला खड़ा है। चीन जैसा दोस्त भी उसके समर्थन में खुलकर नहीं बोल रहा है। पाकिस्तान को अलग-थलग करने की मोदी सरकार की रणनीति कामयाब होती दिख रही है। आइए जानते हैं भारत के समर्थन में दुनिया के कौन-कौन से देश समाने आ रहे हैं...

US कांग्रेस में लाया गया PAK को आतंकी देश घोषित करने के लिए बिल... - अमेरिका के दो प्रभावशाली सांसदों ने पाकिस्तान को आतंकवादी देश घोषित करने के लिए बिल पेश किया है।  - बिल को अमेरिकी सांसद टेक्सास से टेड पो और कैलिफोर्निया से डाना रोहराबाचर ने पेश किया। - हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में पाकिस्तान स्टेट स्पॉन्सर ऑफ टेररिज्म डेजिगनेशन एक्ट टेबल किया गया है। - टेड पो हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में टेररिज्म पर बनी उपसमिति के अध्यक्ष भी हैं।  - पो ने कहा अब समय आ गया है कि हम पाक के विश्वासघात के लिए उसे धन देना बंद कर दें। - साथ ही अमेरिका उसे घोषित करे जो वह है आतंकवाद को प्रायोजित करने वाला देश। - पाकिस्तान एक ऐसा सहयोगी है जिसपर भरोसा नहीं किया जा सकता।  - पाकिस्तान कई सालों से अमेरिका के दुश्मनों को मदद दे रहा है। - बिल पर राष्ट्रपति बराक ओबामा को बिल पर 90 दिन में रिपोर्ट देनी होगी। - पाकिस्तान, इंटरनेशनल टेररिज्म को सपोर्ट करता है या नहीं।

ओबामा ने PAK को लगाई फटकार... - अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने UN जनरल एसेंबली में पाक को आतंकवाद पर लताड़ लगाई।  - पाकिस्तान का नाम लिए बिना कहा आतंकवाद को समर्थन देने वाले देश छिपकर वार करना बंद करें। - साथ ही आतंकवाद का समर्थन करने वाले देशों को चेतावनी दी कि आतंकवाद ही उन्हें भस्म कर देगा। - ओबामा ने कहा आतंकवाद से अनगिनत मानव पीड़ित होंगे और आतंकवाद बाहरी देशों तक फैलता रहेगा।

कैरी और नवाज की मुलाकात का PAK को नहीं मिला फायदा... - 71st यूएन जनरल असेंबली से अलग अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन कैरी से मीटिंग की नवाज ने। - इस मौके पर शरीफ ने कश्मीर का मुद्दा उठाया,लेकिन उलटा अमेरिका ने ही पाक को झाड़ लगा दी। - यूएस डिपार्टमेंट के उप प्रवक्ता मार्क टोनर ने इस मीटिंग की जानकारी दी।  - कैरी ने नवाज से कहा कि अपनी जमीन को आतंकियों के लिए 'सेफ हैवन' न बनने दें। - टोनर ने बताया कैरी ने शरीफ से कहा कि वह आतंकी संगठनों से असरदार ढंग से निपटें।  - पाकिस्तान को अपनी जमीन आतंकियों के लिए सुरक्षित ठिकाना नहीं बनने देना चाहिए।" - कैरी ने शरीफ से न्यूक्लियर वेपंस प्रोग्राम पर भी लगाम लगाने को कहा। - साथ ही कहा न्यूक्लियर वेपंस को लेकर बेयानबाजी बंद कर पाकिस्तान।

UN सेक्रेटरी जनरल बान की मून ने लगाई PAK को फटकार... - बान की मून के प्रवक्ता ने हमले के एक दिन बाद बयान देते हुए कहा। - हमले की साजिश करने वालों को इंसाफ के कटघरे में लाया जाएगा। - हमारी यह प्रायोरिटी होगी कि क्षेत्र में स्टैबिलिटी फिर से कायम की जाए। - साथ ही और लोगों की जान को और नुकसान नहीं हो।

UN ह्यूमन राइट्स काउंसिल में भी उठा PAK समर्थित आतंकवाद का मुद्दा... - भारत ने यूएन ह्यूमन राइट्स काउंसिल में पाकिस्तान पर उठाए थे सवाल। - कश्मीर में हालात बिगड़ने की मुख्य वजह आतंकवाद है जिसे पाकिस्तान प्रमोट करता है। - पाकिस्तान कश्मीर को अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बनाने के बजाए आतंकियों के बेस खत्म करे।  - पाक में आजाद घूम रहे हाफिज सईद और सैयद सलाहुद्दीन जैसे आतंकी।

रूस ने PAK के साथ रद्द की मिलिट्री ड्रिल और हेलिकॉप्टर सौदा... - उरी हमले के बाद अगर भारत से समर्थन में कोई सबसे पहले खड़ा हुआ तो वो रुस था। - रूस ने भारत से दोस्ती निभाते हुए पाक के साथ तीन MI35 हेलिकॉप्टर सौदा रद्द कर दिया। - साथ ही पाकिस्तान में होने जा रही ज्वाइंट ड्रिल कैंसल कर दी। - यह आर्मी ड्रिल पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में होने जा रही थी।  - रूस ने उरी हमले के बाद एक बयान जारी कर इसे खतरे का संकेत बताया। - साथ ही कहा हमारी संवेदनाएं आतंकी हमले में शहीद हुए सैनिकों के परिवार के साथ हैं।

फ्रांस ने तो सीधे पाकिस्तान को ही कटघरे में खड़ा कर दिया... - फ्रांस ने जारी बयान में कहा हम इंडिया के साथ हैं। - नई दिल्ली फ्रांस का स्ट्रैटजिक पार्टनर है, हम इस संकट से मिलकर लड़ेंगे।' - अंतरराष्ट्रीय कानूनों के तहत भारत को निशाना बनाने वाले आतंकवादी संगठनों पर कार्रवाई हो। - लश्करे-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और हिज्बुल मुजाहिद्दीन का नाम लेकर उन्हें नेस्तोनाबूत करने को कहा।

ब्रिटेन भारत के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है... - ब्रिटेन के विदेश मंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हम भारत के साथ खड़े हैं। - ब्रिटेन दोषियों को न्याय के कटघरे में लाने में भारत के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है।  - जॉनसन ने कहा मैं पीड़ितों, उनके परिवार एवं मित्रों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं।   चीन ने सिर्फ अफसोस जताया... - पाकिस्तान के दोस्त चीन ने उरी हमले पर अब तक खुलकर कुछ नहीं कहा है।  - हालांकि हमले पर चीन ने अफसोस जरूर जताया है। - जारी बयान में कहा गया हम सभी तरह के आतंकवाद की निंदा करते हैं।  - कश्मीर मसले को लेकर भारत और पाकिस्तान बातचीत के जरिए हल निकालें।

जर्मनी, कनाडा, जापान, सउदी अरब सभी भारत के साथ... - सभी देश एक सुर में भारत के हक में समर्थन की बात की है।  - जर्मनी ने बयान जारी कर कहा आतंकवाद से मुकाबले के लिए जर्मनी भारत के साथ है।  - हर देश की जिम्मेदारी है कि अपनी सीमा में हो रहे आतंकवाद के खिलाफ कदम उठाए।

PAK में होने जा रही SAARC समिट का होगा का बायकॉट... - बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना BIMSTEC में शामिल होने अगले महीने भारत आएंगी। - पीएम मोदी और शेख हसीना के बीच द्विपक्षीय बातचीत होगी। - बातचीत में फैसला लिया जाएगा कि SAARC समिट में शामिल होंगे या नहीं। - भारत में बांग्लादेश के हाई कमिश्नर सैयद मुआज्जेम ने किया खुलासा। - पीएम शेख हसीना ने SAARC में शामिल होने का फैसला नहीं किया है।  - दूसरी तरफ भारत में अफगानिस्तान के हाई कमिश्नर ने SAARC समिट के बायकॉट की मांग की है। - शाइदा मोहम्मद अब्दाली ने कहा इस रीजन में शांति और एकता के लिए कदम उठाए जाने चाहिए।  - साथ ही कहा कि उस देश को अलग-थलग करने की कोशिश करने की जरूरत है जो क्षेत्रीय शांति एवं अखण्डता को नष्ट करता है।  - समय आ गया है कि पाकिस्तान को एक सख्त मैसेज देना चाहिए - इसके लिए नवंबर में होने वाली सार्क समिट का भी बायकॉट किया जा सकता है, लेकिन इसके लिए सभी को कोशिश करनी होगी।

 


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top