जब्त किए गए अमेरिकी ड्रोन को वापस करने के लिए तैयार चीन

नई दिल्ली ( 18 दिसंबर ): दक्षिण चीन सागर में चीन की नौसेना की तरफ से गुरुवार को अमेरिकी ड्रोन को जब्त कर लिया गया था जिसके बाद दोनों देश के बीच तनाव बढ़ गया, लेकिन इस तनाव का पटाक्षेप होता दिख रहा है। चीनी रक्षा मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि अमेरिका के साथ ड्रोन को वापस किए जाने को लेकर बातचीत जारी है। इसके साथ ही चीन ने अमेरिका पर इस मुद्दे पर तूल देने का भी आरोप लगाया। चीन ने कहा कि अमेरिका ने इसे बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया और मामले को सुलझाने में मदद नहीं की।

चीनी नौसेना की ओर से गुरुवार को दक्षिण चीन सागर में मौजूद अमेरिका के एक ड्रौन को जब्त कर लिया गया था। इतिहास में यह अपनी तरह की पहली घटना है, जब अमेरिका के किसी उपकरण को समुद्र के भीतर से किसी देश ने जब्त किया है। ड्रोन को उस वक्त चीनी नौसेना द्वारा जब्त किया गया, जब फिलीपींस के पास अमेरिकी नेवी का एक मानवरहित अंडरवॉटर वीइकल (यूयूवी) सर्वे कर रहा था।

शनिवार को ही चीन के प्रभावशाली अखबार ग्लोबल टाइम्स ने अज्ञात चीनी सूत्रों के हवाले से लिखा था कि चीनी नौसेना के वॉरशिप ने 'अज्ञात उपकरण' को पकड़ा था ताकि किसी तरह के समुद्री खतरे की आशंका को टाला जा सके। पेंटागन की ओर से शुक्रवार को इस घटना की पुष्टि की गई थी।