डोनाल्ड ट्रंप ने ओबामाकेयर योजना को किया रद्द

नई दिल्ली ( 5 मई ): अमेरिका के व्हाइट हाउस से एक बड़ी खबर है कि अमेरिकी सदन ने गुरुवार को पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की महत्वाकांक्षी स्वास्थ्य योजना ‘ओबामाकेयर’ को निरस्त कर दिया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इसकी जगह जिस नए हेल्थ केयर (रिपब्लिकन स्वास्थ्य सेवा) बिल को लाना चाहते थे वह प्रतिनिधि सभा में पारित हो गया।

 

अमेरिकन हेल्थ केयर एक्ट बिल के लिए रिपब्लिकन पार्टी के अंदर पर्याप्त समर्थन जुटाने के बाद इसे सदन में पारित करा लिया गया। हालांकि, डेमोक्रेट सदस्यों के अलावा मरीजों, डॉक्टरों और अस्पतालों के कई समूहों ने इस बिल का विरोध किया था। खुद रिपब्लिकन पार्टी में इसको लेकर काफी मतभेद थे।


रिपब्लिकन को इस बिल को पारित कराने के लिए 216 वोटों की जरूरत थी। हालांकि, उसे 217 वोट मिले, जिसके बाद यह पास हो गया। इस बिल के पक्ष में किसी भी डेमोक्रेट सदस्य ने वोट नहीं किया। जानकारों के अनुसार, अब इस बिल को अगले महीने सीनेट में पेश किया जाएगा।


अमेरिका के निचले सदन में इस बिल के पास के होने के साथ ही अपने तीन महीने के कार्यकाल में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को पहली वैधानिक जीत मिली है।


अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में ओबामाकेयर योजना को निरस्त करने को लेकर 217 वोट डाले गए, जबकि विपक्ष में 213 वोट पड़े। ओबामाकेयर की जगह रिपब्लिकन स्वास्थ्य सेवा विधेयक लाया गया है।


इससे पहले, रिपब्लिकन नेता केविन मेक्कार्थी ने कहा था कि उन्हें विश्वास है कि उनकी पार्टी के पास नए विधेयक को पास कराने के लिए पर्याप्त वोट संख्या है। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने चुनावी अभियान के दौरान ओबामाकेयर को बेकार बताया था। तब उन्होंने इस योजना को खत्म करने की बात भी कही थी। उन्होंने अपने चुनावी अभियान के दौरान इसे एक आपदा के तौर पर बताया था।


राष्ट्रपति पद के शपथ ग्रहण के कुछ घंटों बाद ही ट्रंप ने एक आदेश जारी कर ओबामाकेयर को रद्द कर दिया था। हालांकि, स्वास्थ्य बीमा योजना पर मतदान से ठीक पहले विधेक को वापस ले लिया गया था। इसके पीछे सबसे बड़ी वजह रिपब्लिकन सदस्यों के बीच आपसी मतभेद होने की बात सामने आई थी। इसके बावजूद ट्रंप ओबामाकेयर को खत्म करने और इसे बदलने की कोशिश जारी रखे हुए थे।