25,985 करोड़ लगाकर उत्तर कोरिया को तबाह करेगा अमेरिका

नई दिल्ली ( 18 नवंबर ): परमाणु हथियार और मिसाइल विकास कार्यक्रम को लेकर अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच तनातनी है। दोनों देशों के शीर्ष नेता लगातार एक दूसरे धमकी दे रहे हैं। उत्तर कोरिया लगातार अमेरिका को परमाणु हमले और मिसाइल हमले की धमकी दे रहा है।  अमेरिका परमाणु हमले और मिसाइल बचने के लिए जबरदस्त योजना तैयार किया है। 

उत्तर कोरिया की धमकियों से आजिज अमेरिका ने अपने शहरों को किसी संभावित मिसाइल हमलों से बचाने के लिए मिसाइल डिफेंस सिस्टम डिजाइन किया है। डोनाल्ड ट्रंप की सरकार ऐसी रणनीति पर भी काम कर रही है, जिससे कोरियाई प्रायद्वीप के आकाश में ही मिसाइल को नष्ट कर दिया जाए।

दरअसल, ट्रंप प्रशासन ने पिछले सप्ताह कांग्रेस से उत्तर कोरिया से निपटने के लिए 4 अरब डॉलर (करीब 25,985 करोड़ रुपये) की आपात राशि स्वीकृत करने का आग्रह किया था। अमेरिका की योजना इस पैसे के जरिए साइबरवेपन विकसित करने की है, ताकि उत्तर कोरिया द्वारा मिसाइल लॉन्च किए जाने से पहले ही उसके कंट्रोल सिस्टम में छेड़छाड़ की जा सके और अमेरिका के ड्रोन तथा लड़ाकू विमान मिसाइल लॉन्च होने के कुछ ही समय बाद उसे नष्ट कर सकें। 

एक इंटरव्यू में रक्षा अधिकारी, कुछ शीर्ष वैज्ञानिकों और कांग्रेस के सदस्यों ने उत्तर कोरिया के अंतरमहाद्वीपीय बलिस्टिक मिसाइल (ICBM) के खतरे से निपटने की रणनीति का खुलासा किया।