पाकिस्तान को बहुत बड़ा झटका देने की तैयारी में ट्रंप

नई दिल्ली(19 सितंबर): अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की रणनीति से साफ हो गया है कि अमेरिका पाकिस्तान को जल्द ही टेररिस्ट स्टेट घोषित करने वाला है। हालांकि इस बात का अहसास पाकिस्तान को भी हो गया है। इसलिए उसने धार्मिक और सांस्कृतिक विरोधाभास के बावजूद चीन के साथ पूरी तरह जाने की तैयारी कर ली है।

- अमेरिकी प्रशाशन ने हाल ही में आतंकियों को वित्तीय मदद करने वाले संगठनों और व्यक्तियों के अमेरिका आने पर रोक लगा कर पाकिस्तान को संकेत दे दिये थे कि आनने वाले दिन मुश्किल भरे होने वाले हैं।

- यह भी जानकारी मिली है कि अमेरिका ने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के संदिग्ध अधिकारियों की सूची बनायी है जो आतंकियो को न केवल प्रमोट कर रहे हैं बल्कि उन्हें पाकिस्तान के अलावा दुनिया भर में सेफ शैल्टर मुहैया करवा रहे हैं। 

- अमेरिका के इस कदम से पाकिस्तान को टेरर स्टेट घोषित करने का रास्ता साफ हो जायेगा। इसके पहले अमेरिका पाकिस्तान की आर्थिक रीढ तोड़ने के लिए उसका गैर नाटो सदस्य़ का दर्जा भी खत्म करेगा। अमेरिकी थिंक टैंक का मानना है पाकिस्तान को अपना सदाबहार दोस्त कहने वाले चीन के पास भी अब उसको ज्यादा देने को बचा नहीं है। बीजिंग की नीतियां  इस्लाम के खिलाफ हैं। और पाकिस्तान खुद को इस्लामिक स्टेट कहता है, इसलिए यह विरोधाभास चीन-पाकिस्तान को ज्यादा नजदीक नहीं ला सकता।