किम को 'औकात में लाने' की तैयारी में अमेरिका और चीन

नई दिल्ली(9 फरवरी): अमेरिका और चीन ने उत्तर कोरिया पर परमाणु हथियारों के खिलाफ दबाव बनाने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराई है। अमेरीका के विदेश मंत्रालय ने यह जानकारी दी।  

- अमेरीका के विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन तथा चीन के शीर्ष राजनयिक यांग जिएची ने उत्तर कोरिया के परमाणु हथियारों के खिलाफ दबाव बनाने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराई।  जिएची वाशिंगटन की दो दिवसीय यात्रा पर हैं। उनकी अमेरीका-चीन के बीच संवेदनशील आर्थिक संबंधों पर बातचीत करने की उम्मीद है क्योंकि हाल की कुछ घटनाओं के बाद विश्व की दो बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच व्यापारिक संघर्ष का खतरा उत्पन्न हो गया है।

-अमेरीका के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नॉअर्ट ने बताया कि दोनों पक्षों ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप तथा चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की उत्तर कोरिया के अवैध हथियारों तथा परमाणु कार्यक्रमों के खिलाफ दबाव बनाने की प्रतिबद्धता की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि श्री टिलरसन तथा श्री जिएची आपसी चुनौतियों पर सहयोग और मतभेदों को दूर करने के उद्देश्य से एक रचनात्मक एवं लाभकारी संबंधों को जारी रखने की महत्ता पर सहमत हो गए हैं।