डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को दिया बड़ा झटका, परमाणु प्रसार मामले में सात कंपनियों पर बैन

नई दिल्ली ( 27 मार्च ): डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को करारा झटका दिया है। ट्रंप के फैसले ने पाकिस्तान की नींद उड़ा दी है। अमेरिकी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरे वाली सूची में पाकिस्तान की सात कंपनियों का नाम डाल दिया है। इन कंपनियों पर आरोप है कि ये परमाणु कारोबार में संलिप्त हैं। अमेरिका ने इन कंपनियों पर न्यूक्लियर ट्रेड का शक जाहिर किया है। अमेरिकी सरकार के इस फैसले ने पाकिस्तान के परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह यानि एनएसजी में शामिल होने के मंसूबे पर पानी फेर दिया है।

अमेरिका के ब्यूरो ऑफ इंडस्ट्री एंड सिक्योरिटी द्वारा पिछले सप्ताह प्रकाशित फेडरल रजिस्टर में कुल 23 कंपनियों को शामिल किया गया है। पाकिस्तानी कंपनियों के अलावा इस सूची में दक्षिणी सूडान की 15 कंपनियां और सिंगापुर की एक कंपनी भी शामिल है। इस लिस्ट में शामिल होने का मतलब है कि ये कंपनियां अब अंतरर्राष्ट्रीय व्यापार नहीं कर सकेंगी। 

ब्यूरो ने कहा है कि सभी पाकिस्तानी कंपनियों के बारे में ऐसा माना जा रहा है कि ये अमेरिका की विदेश नीति के हितों अथवा राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रतिकूल गतिविधियों में संलिप्त हैं या गंभीर संकट पैदा कर रही हैं। अब इन सभी 23 कंपनियों को निर्यात नियंत्रण के कड़े प्रावधानों का सामना करना पड़ेगा, जो इन्हें अंतरराष्ट्रीय व्यापार से रोक भी सकता है।