US के वीजा नियम में बदलाव से न हों परेशान, कनाडा कर रहा है वेलकम !

नई दिल्ली (12 फरवरी): ट्रंप प्रशासन ने अमेरिका में H-1B वीजा में बदलाव भारी बदलाव कर दिया है। इससे भारतीय प्रोफेशनलर्स के परेशान हो गए हैं। लेकिन इससे परेशान होने की जरूरत नहीं है। कनाडा स्थित भारतीय मूल के टेक दिग्गजों का कहना है कि राष्ट्रपति ट्रंप की ओर से वीजा और ट्रैवल के नियमों को कड़ा किए जाना कनाडा के लिए वरदान साबित होगा। इससे कनाडा में IT एंप्लॉयीज की भर्ती बढ़ेगी और निवेश का माहौल बनेगा।

आईटी कंपनी फैंटेसी 360 के सीईओ शाफिन डायमंड तेजानी ने कहा है कि इससे भारत के बेहतरीन टैलंट को कनाडा आकर काम करने और बसने का अवसर मिलेगा। तेजानी के मुताबिक भारतीय आईटी एंप्लॉयीज की ओर से वैंकोवर में शिफ्ट होने को लेकर पूछताछ की जा रही है। अमेरिका और भारत दोनों जगहों पर काम करने वाले टेक एंप्लॉयीज यहां आने को लेकर उत्सुक दिखते हैं।

जानकारों के मुताबिक 108 अरब अमेरिकी डॉलर की पूंजी और 40 लाख लोगों को रोजगार देने वाला भारतीय आईटी सेक्टर यूएस में पाबंदियों के चलते दूसरे देशों का रुख कर सकता है। इन देशों में से एक कनाडा भी हो सकता है। गौरतलब है कि एच-1बी वीजा में बदलाव को लेकर अमेरिकी संसद में तीन बिल लंबित हैं। इस वीजा पर ही भारत का आईटी सेक्टर हजारों हाई स्किल्ड वर्कर्स को हर साल अमेरिका भेजता है।