सीरियाई विमान गिराये जाने के बाद रूस-अमेरिका फिर आमने-सामने

नई दिल्ली (20 जून): सीरिया में सुखोई-22 मार गिराने के बाद रूस और अमेरिका फिर आमने-सामने आ गये हैं। रूस ने अमेरिका को सख्त चेतावनी दी है। रूस और ईरान ने मिलकर सीरिया में कार्यरत नाटो सेनाओं के लिए एक नई रेड लाईन निर्धारित की है। रूस ने कहा है कि इस सीमा को लांघने वाले नाटो के किसी भी विमान या ड्रोन पर न केवल निगाह रखी जाय़ेगी बल्कि बिना किसी पूर्व चेतावनी के उसे मार गिराया जायेगा। अमेरिकी फौजों ने कहा है कि सीरियाई विमान उसकी समर्थित स्थानीय टुकड़ियों पर बमबारी कर रहा था। इसलिए उसे मार गिराया गया। जबकि रूस ने कहा है कि सीरियाई विमान सरकार विरोधी गुटों को रोकने के मिशन पर था। सीरिया में अमेरिका और रूस के आमने-सामने आ जाने से एक बार फिर स्थितियां गंभीर हो गयी हैं।