ये है फोर्ड मस्टैंग का फेसलिफ्ट अवतार, इन नई खासियतों के साथ आएगी

फोर्ड ने अमेरिका में मस्टैंग के फेसलिफ्ट अवतार से पर्दा उठाया है। इसके डिजायन, फीचर और इंजन में कई बदलाव हुए हैं। नई मस्टैंग से जुड़ी जानकारी कुछ इस तरह हैं...

डिजायन

नई मस्टैंग पहले के मुकाबले ज्यादा शार्प और आकर्षक है। इसके डिजायन में कई बदलाव हुए हैं। इसका बोनट और फ्रंट ग्रिल पहले के मुकाबले थोड़े कम चौड़े हैं, आगे वाला बंपर भी नया और कम चौड़ा है।

आगे की तरफ ऑल एलईडी लाइट वाला क्लस्टर दिया गया है। ये हर वेरिएंट में स्टैंडर्ड रहेंगा। इन में लो-बीम, टर्न सिग्नल और प्रोजेक्टर हाई-बीम की सुविधा मिलेगी। नई मस्टैंग में एलईडी फॉग लैंप्स का विकल्प भी जोड़ा गया है।

पीछे की तरफ ध्यान दें तो यहां भी नए बदलाव हुए हैं। यहां एलईडी टेललैंप्स लगे हैं। पिछले बंपर में भी बदलाव हुए हैं। नई मस्टैंग में नए स्पॉइलर का विकल्प भी दिया गया है। ईकोबूस्ट इंजन वाले वर्जन में ड्यूल एग्जॉस्ट आउटलेट और वी8 इंजन वाली मस्टैंग में चार एग्जॉस्ट पाइप मिलेंगे। नई मस्टैंग में नए औरेंज फ्यूरी कलर शेड का विकल्प भी मिलेगा। अलॉय व्हील के लिए 12 डिजायनों का विकल्प मिलेगा।

इंजन

मस्टैंग में अभी तक 3.7 लीटर का वी6 इंजन आता था लेकिन नई मस्टैंग में दो नए विकल्प मिलेंगे, इन में 2.3 लीटर का 4-सिलेंडर ईकोबूस्ट और 5.0 लीटर का वी8 इंजन शामिल है। इन दोनों इंजन को ज्यादा पावर देने के लिए ट्यून किया गया है, हालांकि कंपनी ने इनके पावर आंकड़े के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं दी है।

इंजन के अलावा इनके मैनुअल ट्रांसमिशन में भी बदलाव हुए हैं। वी-8 इंजन वाली मैनुअल मस्टैंग में टॉर्क डिलिवरी को बेहतर बनाने के लिए कुछ बदलाव हुए हैं। इस में ट्विन डिस्क क्लच और ड्यूल मास फ्लाई व्हील दिया गया है। ड्यूल फ्लाई व्हील की बदौलत गियरशिफ्टिंग ज्यादा स्मूद होगी और वाइब्रेशन कम होगा। इस के अलावा कंपनी इस में एक्टिव वॉल्व एग्जॉस्ट फीचर का विकल्प भी देगी। इस में ड्राइवर यह तय कर पाएगा कि कब कार का एग्जॉस्ट कम आवाज देगा और कब यह दमदार आवाज़ पैदा करेगा।

नई मस्टैंग का सबसे अहम बदलाव

पुरानी मस्टैंग में 6-स्पीड गियरबॉक्स दिया गया था, जबकि नई मस्टैंग में नया 10-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन दिया है, इसे जनरल मोटर्स के साथ मिलकर तैयार किया गया है। 10-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन का विकल्प दोनों इंजनों में मिलेगा। कंपनी का दावा है कि यह इस्तेमाल में काफी स्मूद और आसान है। इसमें पैडल शिफ्टर्स भी मिलेंगे।

ये है दूसरा अहम बदलाव

बेहतर राइड और कंट्रोल के लिए नई मस्टैंग के सभी मॉडल में नए शॉक एब्जॉर्ब्स दिए गए हैं, वहीं अच्छे नियंत्रण के लिए इसके रियर सस्पेंशन में नए क्रॉस-एक्सिस जॉइंट का इस्तेमाल किया गया है। हैंडलिंग को बेहतर बनाने के लिए इस में स्टेबिलाइज़र बार का इस्तेमाल हुआ है। इन के अलावा इस में एडाप्टिव डैम्पर्स भी दिए गए हैं।

एडाप्टिव डैम्पर्स अभी तक मस्टैंग के कस्टमाइज़ वर्जन शैल्बी जीटी 350 में आते थे, इसे परफॉर्मेंस मस्टैंग बनाने वाली कंपनी शैल्बी ही तैयार करती है। एडाप्टिव डैम्पर्स ईकोबूस्ट और जीटी परफॉर्मेंस वेरिएंट में भी मिलेंगे, इन की वजह से तेज़ रफ्तार पर बेहतर हैंडलिंग मिलेगी।

केबिन

नई मस्टैंग के केबिन में नया 12 इंच की एलसीडी स्क्रीन वाला डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर दिया गया है। इसमें तीन ड्राइव मोड नॉर्मल, स्पोर्ट और ट्रैक दिए गए हैं। ड्राइव सेटिंग, सस्पेंशन और स्टीयरिंग प्रीफरेंस को सेव करने के लिए इसमें मस्टैंग माईमोड फीचर भी दिया गया है।

नई मस्टैंग में सेफ्टी के लिए कई फीचर दिए गए हैं, इस में प्री-कोलाइज़न असिस्ट के साथ पैडरेस्ट्रेन डिटेक्शन भी शामिल है, यह टक्कर होने की स्थिति बनने और किसी पैदल यात्री के कार के बहुत पास आने पर अलर्ट करता है। इसके अलावा लेन कीपिंग असिस्टेंस, लेन डिपार्चर वार्निंग और सामने चल रहे वाहन से दूरी का अलर्ट देने वाला सिस्टम भी इस में लगा है। नई मस्टैंग में पहली बार फोर्ड का सिंक कनेक्ट सिस्टम, फोर्डपास के साथ मिलेगा। फोर्डपास स्मार्टफोन एप के जरिये कार को स्टार्ट, स्टॉप और लॉक करने के अलावा उसकी लोकेशन भी पता लगाई जा सकती है।

अमेरिका में इसकी बिक्री इस साल के अंत तक शुरू होगी, संभावना है कि भारतीय कार बाजार में इसे अगले साल के मध्य तक उतारा जा सकता है।

कारदेखो

ये है फोर्ड मस्टैंग का फेसलिफ्ट अवतार, इन नई खासियतों के साथ आएगी