VIDEO: दलितों को शौच टैक्स के नाम पर देने पड़ते हैं 40 रुपये

बांदा (22 जून): यूपी के बांदा जिले में एक गांव ऐसा है, जहां खेतों में शौच के लिए दलितों को टैक्स देना पड़ता है। वह भी अडवांस में। ये हालात हैं बांदा के भुजवनपुरवा गांव के। सरकार भले ही खुले में शौच मुक्ति के दावे करती हो, लेकिन इस गांव की हकीकत कुछ और ही बयां करती है।

कुल 120 परिवारों के इस गांव में आधे के करीब पिछड़े मजदूर परिवार हैं। इन्हें शौच तक के लिए दबंगों पर निर्भर रहना पड़ रहा है। इसके बदले उन्हें उनके खेतों में मजदूरी करनी पड़ती है और उसके लिए मिलने वाले 40 रुपये या ढाई किलो गेहूं में से भी कटौती कर ली जाती है। फिलहाल मामले की जानकारी होने पर जिला अधिकारी ने मामले में जांच की बात कही है।

वीडियो: