जेवर गैंगरेप मामले में आया नया मोड़, हुआ ये बड़ा खुलासा...

जेवर (27 मई): योगी सरकार के लिए गले की फांस बने जेवर गैंगरेप और मर्डर केस में नया मोड़ आ गया है। प्राथमिक मेडिकल रिपोर्ट में महिलाओं के साथ रेप की पुष्टि नहीं हो पायी है। हालांकि, अब डॉक्टर्स अंतिम नतीजे पर पहुंचने के लिए FSL रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। दूसरी तरफ पीड़ित परिवार ने पुलिस की कार्रवाई पर नाराजगी जताई है।

इन सब के बीच एक पीड़िता के बयान पलटने से मामला और उलझ गया है। जेवर कांड की पीड़ित महिलाएं साफ-साफ रेप और गैंगरेप का आरोप लगा रही हैं। लेकिन, प्राथमिक मेडिकल रिपोर्ट से इनके आरोपों की पुष्टि नहीं हो पायी है। अब डॉक्टर्स इस मामले में आगे की रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं तभी इस मामले में आधिकारिक बयान दिया जाएगा।

इस बीच एक पीड़िता अपने बयान से पलट गई है, जिससे पूरा मामला ही सवालों के घेरे में आ गया है। पहले उसने वारदात का आरोप अपने पड़ोसी पर लगाया था, लेकिन अब वो आपसी रंजिश की बात को खारिज कर रही है। पुलिस ने इस मामले में अबतक 4 लोगों को हिरासत में लिया है, जबकि 6 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

जेवर कांड इसी बुधवार रात को हुआ था। पीड़ित परिवार के मुताबिक जब वो जेवर से बुलंदशहर जा रहे थे, तब 6 बदमाशों ने गोली मारकर उनकी कार के टायर को पंचर किया और फिर बंदूक के बल पर चार महिलाओं के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है, लेकिन अब चौंकाने वाले तथ्य सामने आ रहे हैं।