'अमीर मुस्लिम छोड़ें हज सब्सिडी'

नई दिल्ली(25 मार्च): योगी आदित्यनाथ के मंत्री की चाहत है कि अमीर मुस्लिम हज सब्सिडी छोड़ें ताकि इसका फायदा उन्हें मिल सके जिन्हें इसकी वास्तव में जरूरत हो।


- यूपी के मुस्लिम वक्फ और हज मंत्री मोहसिन रजा का कहना है कि हज यात्रा के लिए सब्सिडी गरीबों के लिए है न कि अमीर मुस्लिमों के लिए। उन्होंने कहा कि उनकी प्राथमिकता यह सुनिश्चित करना होगा कि हज सब्सिडी 'योग्य मुस्लिमों' को मिले।


- मोहसिन रजा ने कहा, 'हम सिर्फ जायज लोगों को सब्सिडी देंगे जो खुद से हज यात्रा का खर्च उठाने में असमर्थ हों। अगर कोई व्यक्ति लाखों-करोड़ों का मालिक है तो उसे सरकार के पैसों से हज यात्रा नहीं करनी चाहिए। हम नियमों की समीक्षा कर रहे हैं और जल्द ही फैसले का ऐलान करेंगे।' वह हज सब्सिडी के बारे में पूरी पारदर्शिता चाहते हैं।


-  उन्होंने कहा कि वह अमीर मुस्लिमों से हज सब्सिडी छोड़ने और निजी एयरलाइंस के जरिए हज यात्रा पर जाने की अपील करेंगे ताकि उन गरीब लोगों को हज पर जाने का मौका मिले जो इसका सपना देखते हैं।


- यूपी के हज मंत्री ने कहा, 'पिछली बार (तब आजम खान हज मंत्री थे) हज सब्सिडी के वितरण में कोई पारदर्शिता नहीं रखी गई। किन लोगों को हज सब्सिडी के लिए चुना गया इसे लेकर पारदर्शिता नहीं थी। जब मैं गुरुवार को हज कमिटी के कार्यालय गया तो पाया कि हजयात्रियों को इस बारे में पता ही नहीं था कि यूपी के लिए हज कोटा बढ़ा दिया गया है। अधिकारियों ने मोदी सरकार के इस कदम के बारे में हज यात्रियों को सूचित ही नहीं किया था। हम अपनी सरकार के तहत सिस्टम में पारदर्शिता और ईमानदारी लाएंगे। ऐसा नहीं होना चाहिए कि मैं अगर मंत्री हूं तो अपने परिवार और रिश्तेदारों को सब्सिडी का लाभ दिलाऊं और हज यात्रा पर जाने दूं।'