कभी-कभी समझाने से नहीं, बहकाने से वोट मिलते हैं: अखिलेश यादव

नई दिल्ली ( 11 मार्च ): उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में सपा-कांग्रेस गठबंधन की हार पर अखिलेश यादव ने प्रेस कांफ्रेस कर कहा कि वह जनता के फैसले को स्वीकार करते हैं। उन्होंने कहा कि हम उम्मीद जताते हैं कि नई सरकार बेहतर काम करेगी।

अखिलेश ने कहा कि नई सरकार के गठन के बाद पहली कैबिनेट बैठक के बाद जो निर्णय आएंगे, उसका हम सबको इंतजार रहेगा। किसानों का कर्ज माफ हुआ तो बहुत खुशी होगी।

बसपा प्रमुख मायावती द्वारा ईवीएम पर उठाए गए सवाल को लेकर अखिलेश ने कहा कि सरकार को इसकी जांच करानी चाहिए। अखिलेश ने कहा कि कांग्रेस के साथ गठबंधन जारी रहेगा, इस गठबंधन से हमें लाभ हुआ। इस गठबंधन के जरिये दो युवा नेता साथ आए। अखिलेश ने कहा कि हमने यूपी के विकास के लिए काम किया, जब तक कोई हमसे अच्छा काम करके नहीं दिखाता, तब तक हमारा काम जरूर बोलेगा।

अखिलेश ने कहा कि हो सकता है लोगों को एक्सप्रेस वे न पसंद आया हो, बुलेट ट्रेन के लिए वोट किया हो। पीएम नरेंद्र मोदी के जनता से वादों को लेकर अखिलेश ने कहा कि हमने लोगों को अपनी योजनाओं के बारे में खूब समझाया। लेकिन, लगता है कि कभी-कभी लोकतंत्र में समझाने की बजाय बहकाने से वोट मिल जाते हैं।

2019 के लोकसभा चुनावों की तैयारियों को लेकर अखिलेश ने कहा कि पहले कैबिनेट के फैसले आ जाने दीजिए। 2019 तो अभी दूर है।