यूपी में दलित युवक को सड़क पर नंगा कर पीटा

नई दिल्ली (12 सितंबर): कानपुर देहात जिले के झींझक में एक दलित युवक को दबंगों ने रोड पर नंगा कर पीटा। लोहे की रॉड से हुई पिटाई से उसके दोनों पैर टूट गए। इसके बाद उसे एक प्लॉट में फेंक दिया गया। काफी देर बाद पहुंची पुलिस ने पहले उसे नजदीकी अस्पताल में ऐडमिट कराया, जहां से उसे कानपुर भेज दिया गया।

पुलिस ने 24 घंटे बाद नामजद एफ आईआर लिखी, लेकिन आरोपी खुलेआम थाने में आते-जाते रहे। मंगलपुर थाने के एसओ जेपी यादव ने रिपोर्ट की पुष्टि की है। अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। झींझक ब्लॉक के मुंडेरा किन्नर सिंह गांव की सरपंच नन्ही शंखवार हैं। नन्हीं का सारा काम उनका देवर शिवनाथ (23) देखता है। बीते साल हुए पंचायत चुनाव में मिली हार के बाद गांव की रमाकांती, नन्ही से रंजिश मानने लगी थी।

वह खुद को समाजवादी पार्टी से जुड़ा बताती हैं। आरोप है कि बीते गुरुवार की रात शिवनाथ जब बाजार से मजदूरी करके घर लौट रहा था, तभी झींझक कस्बे में पेट्रोल पंप के पहले रमाकांती, रेवती रमण, छोटे लल्ला, मनीष और ज्ञानेंद्र ने उसे पकड़ लिया। रमाकांती की मौजूदगी में ही शिवनाथ को लोहे की सरिया और डंडों से बुरी तरह पीटा गया।