UP को आज मिल सकता है नया CM, जानें कौन हैं रेस में सबसे आगे

नई दिल्ली (16 मार्च): उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के लिए आज का दिन काफी अहम है। गोवा और मणिपुर में कांग्रेस से पिछड़ने के बावजूद बीजेपी ने सरकार का गठन कर लिया, लेकिन उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में सरकार बनाने के लिए मिले प्रचंड बहुमत से बाद बीजेपी अबतक सरकार नहीं बना पाई है। दोनों जगहों पर सीएम के नाम पर पेंच फंसा हुआ है।

16 मार्च यानी आज लखनऊ में बीजेपी की विधायकों की बैठक होगी, इसमें पर्यवेक्षक के तौर पर वेंकैया नायडू और भूपेंद्र यादव भी मौजूद रहेंगे। इस बैठक  के बाद दोनों पर्यवेक्षक अपनी रिपोर्ट अमित शाह को देंगे जिसके बाद नाम पर फैसला होगा।

उत्तर प्रदेश में बीजेपी की एतिहासिक जीत के बाद अब बड़ा सवाल है कि आखिर कौन बनेगा मुख्यमंत्री ? बीजेपी भी इस सवाल में उलझी हुई नजर आ रही है।  पद एक है और दावेदार अनेक है। सवाल ये उठता है कि राजनाथ सिंह, योगी आदित्यनाथ, मनोज सिन्हा, केशव प्रसाद मौर्य या कोई और उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री

होगा।

- फिलहाल इस रेस में राजनाथ सिंह का नाम सबसे ऊपर बताया जा रहा है। कोयंबटूर में आरएसएस के नेताओं की बैठक में भी राजनाथ सिंह सहित बाकी नामों पर चर्चा होने की खबर है। राजनाथ इस रेस में सबसे ऊपर इसलिए हैं क्योंकि एक तो वो अनुभवी हैं दूसरे पार्टी में उनके नाम पर कोई विरोध नहीं होगा। पहले भी वो यूपी के सीएम रह चुके हैं. राजपूत जैसी प्रभावशाली जाति से आते हैं। चुनाव में राजपूतों ने बीजेपी को झोली भरकर वोट किया है। हालांकि राजनाथ सिंह खुद दिल्ली से लखनऊ नहीं जाना चाहते। और वो कई बार मीडिया में मना भी कर चुके हैं।

- BJP ने केशव प्रसाद मौर्य को यूपी की कमान कुछ साल पहले सौंपी थी। यूपी में उन्हें मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। मालूम हो कि महाराष्ट्र में भी पार्टी ने प्रदेश अध्यक्ष देवेंद्र फडणवीस को मुख्यमंत्री बनाया था।

- रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने इस यूपी चुनाव के दौरान काफी प्रचार किया है। उन्होंने पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में अहम भूमिका निभाई थी। इसके अलावा मनोज सिन्हा के पूर्वांचल से आने की वजह से भी उनके मुख्यमंत्री पद की दौड़ में शामिल होने की संभावनाएं अधिक हैं।

- पार्टी के फायरब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ ने इस चुनाव में काफी प्रचार किया है। हालांकि, वे हमेशा ही कहते रहे हैं कि पार्टी जिसे मुख्यमंत्री बनाएगी, वो ही यूपी का सीएम बनेगा। बीजेपी ने उन्हें इस चुनाव में स्टार प्रचारक भी बनाया था। योगी आदित्यनाथ भी प्रदेश में मुख्यमंत्री पद के दावेदारों में एक हैं।

- जानकारों के मुताबिक यूपी में बीजेपी की ओर से दिनेश शर्मा मुख्यमंत्री बन सकते हैं। दिनेश शर्मा लखनऊ के मेयर हैं और साथ ही साथ पार्टी उन्हें पीएम मोदी के राज्य गुजरात का प्रभारी भी बना चुकी है। वहीं, नवंबर 2014 में दिनेश शर्मा को बीजेपी का राष्ट्रीय सदस्यता अभियान का प्रभारी भी बनाया गया था। इस अभियान के बाद बीजेपी विश्व की सबसे बड़ी पार्टी बनी थी।