जहां योगी ने डाला वोट, वहां पर हारी बीजेपी

नई दिल्ली (1 दिसंबर): उत्तर प्रदेश के निकाय चुनावों में भले ही भारतीय जनता पार्टी को बड़ी जीत मिली हो, लेकिन यह खबर सूबे के सीएम को परेशान करने के लिए काफी है। जिस बूथ पर सीएम आदित्यनाथ योगी ने वोट डाला था, वहीं से बीजेपी की प्रत्याशी को हार का सामना करना पड़ा है।

ये सीट गोरखपुर का वार्ड नंबर 68 है। यहां से बीजेपी की माया त्रिपाठी को हार का सामना करना पड़ा, वहीं नादिरा खातून 483 वोटों से विजयी रही। यही नहीं उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के गृहनगर पंचायत सिराथू में भी बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा है, यहां से निर्दलीय प्रत्याशी ने मैदान मारा है।

परिणामों के अनुसार, गोरखपुर में केवल 27 सीटों पर बीजेपी जीत का परचम लहरा सकी। गोरखपुर में बीजेपी को समाजवादी पार्टी ने कड़ी टक्कर दी। सपा को 18 सीटें मिली हैं। वहीं, बसपा और कांग्रेस को 2-2 सीटों पर संतोष करना पड़ा। चुनाव में सबसे बड़ा उलटफेर किया है निर्दलीय प्रत्याशियों ने। यहां कुल 18 निर्दलीय प्रत्याशी जीते हैं।

2012 के मुकाबले सबसे अच्छा प्रदर्शन रहा समाजवादी पार्टी का रहा है। सपा को 2012 में जहां एक भी सीट नहीं मिली थी, वहीं इस बार उसने 18 सीटों पर जीत हासिल की है। बीजेपी का प्रदर्शन भी 2012 के मुकाबले ठीक रहा। पार्टी को 8 सीटों की बढ़त मिली जबकि कांग्रेस और बसपा का भी प्रदर्शन निराशाजनक रहा।