बरेली की बहनों का गुनहगार कौन?

नीरज आनंद, बरेली (28 अगस्त): तीन बहनें अचानक से गायब हो जाती है। कई घंटे बाद लाश एक नदी में मिलती है। घर से दो किलोमीटर दूर आखिर कैसे तीनों पहुंच गई। बरेली की तीन बहनों को किसने मारा और लाश किसने नदी में फेंकी।

बरेली में हाईवे के पास तीनों की लाश मिली, जिससे पूरे गांव में कोहराम मच गया। गांववालों के मुताबिक तीनों बहने एक साथ शौच के लिए घर से निकली थीं। कई घंटे बाद भी जब नहीं लौटी तो तलाश शुरू हुई। किसी ने बताया कि हाईवे के पास नदी के किनारे एक लड़की की लाश है। गांववालों ने वहां जाकर देखा तो वो लाश प्रीति की थी। थोड़ी देर तलाश के बाद दो और लड़कियों की लाश नदी में मिली।

गांववालों को शक है कि प्रीति की गैंगरेप के बाद हत्या की गई, लेकिन पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया तो बताया कि तीनों की मौत डूबने से हुई है। पुलिस की थ्योरी में ये कहीं नहीं पता लगा कि आखिर तीनों बहने नदी के पास कैसे पहुंची और कैसे तीनों नदी में गिरी।

सवाल ये कि आखिर तीनों बहनों के साथ क्या हुआ, किसी ने उन्हें मारा या फिर वो खुद ही कूदीं। इस घटना को 30 घंटे से ज्यादा का वक्त बीत चुका है, लेकिन पुलिस अपनी ही थ्योरी में उलझी है। उधर गांववालों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है। पुलिस के आला अधिकारी भी मौका का मुआयना कर रहे हैं, लेकिन कोई ये नहीं बता पा रहा कि आखिर मौत की वजह क्या है।

घर से भाखड़ा नदी की दूरी 2 किलोमीटर है। ऐसे में ये बात समझ से परे है कि कोई शौच के लिए दो किलोमीटर दूर क्यों जाएगा। उधर प्रीति, शारदा और पिंकी के घरवालों का कहना है कि जो शव मिले हैं, उनका चेहरा तेजाब से जला मिला है। पुलिस के अधिकारियों ने आरोपियों को पकड़ने के लिए कई टीम बना दी है, लेकिन अभी तक कोई सुराग हाथ नहीं लगा है।

वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=8SSF1cVB4dk[/embed]