योगी सरकार का बड़ा फैसला, आतंक की राह जाने वाले लोगों की होगी घर वापसी

नई दिल्ली ( 27 अप्रैल ): उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़ कदम उठाने का फैसला किया है। योगी सरकार अब आतंकवाद की तरफ रुख कर रहे लोगों को सही राह पर लाने की योजना बनाई है। योगी आदित्यनाथ सरकार ने यूपी एटीएस को इसकी जिम्मेदारी दी है। जिसके बाद एटीएस (एंटी टैरर स्कवॉड) ने अपनी योजना तैयार की है। इस योजना को एटीएस ने 'घर वापसी' कार्यक्रम का नाम दिया है।


यूपी एटीएस ने बुधवार को इस संदर्भ में प्रेस नोट जारी किया है। नोट में लिखा है कि इस कार्यक्रम का उद्देश्य भ्रमित लोगों को आतंकवाद की तरफ जाने से रोकना है।


एटीएस का मानना है, 'कई बार ऐसे मामले सामने आते हैं जिनमें परिवार को लगता है कि उनका कोई सदस्य गलत राह पर चल रहा है, लेकिन वो समझ नहीं पाते कि क्या किया जाये।' एटीएस का कहना है कि ऐसे परिवार बेखौफ होकर उन्हें संपर्क करें। इसके लिए हेल्पलाइन नंबर 0522-2304586 और 9792103156 पर संपर्क करें।


एटीएस का दावा है कि उनका फोकस आतंकी मानसिकता में सुधार लाना है। एटीएस ने हाल में कुछ युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ करने की घटनाओं का भी जिक्र किया। एटीएस ने बताया कि पिछले दिनों आतंकी संगठनों के सदस्यों से संबंध की सूचना पर चार युवकों को गिरफ्तार किया गया था। साथ ही 6 युवकों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था। हालांकि सबूतों के अभाव में उन्हें छोड़ दिया गया। जबकि गिरफ्तार युवकों में से कुछ ने धार्मिक भावनाओं के आधार आतंक की राह पर लाने का प्रयास किया था।


यूपी एटीएस के इस 'घर वापसी' कार्यक्रम के तहत लोगों को आतंकवाद का रुख करने से रोकना है। इसके लिए एटीएस भ्रमित युवकों के परिवार, दोस्त और धर्म गुरुओं के साथ मिलकर उनकी काउंसलिंग की जाएगी। साथ ही ऐसे लोगों के लिए शिक्षा और रोजगार में सहयोग दिया जाएगा।