अपराधी ही नहीं ऐसे लोगों पर भी लागू होगा कोका कानून

लखनऊ (13 दिसंबर): उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कोका कानून को प्रदेश में लागू करने की पूरी तैयारी कर ली है। हालांकि अभी तक यह लागू नहीं हुआ है, क्योंकि विधानसभा के आगामी सत्र में इसका मसौदा पेश किया जाएगा, जहां कैबिनेट ने इस कानून को मंजूरी दिलाई जाएगी।

इसके बाद इसे राज्यपाल के पास भेजा जाएगा, जहां से यह राष्‍ट्रपति के हस्ताक्षर के बाद प्रदेश में कानून के रूप में कार्यांवित होगा। अभी तक लोग यह सोच रहे है कि यह कानून सिर्फ बदमाश और अपराधियों पर शिकंजा कसेगी, लेकिन प्रदेश सरकार गैर-कानूनी तरीके से कमाई गई संपत्ति के भी इस कानून के दायरे में शामिल करेगी। जिसके बाद भ्रष्‍टाचार में लिप्त लोगों पर भी कार्रवाई हो सकेगी।

कोका की बड़ी बातें... 1- प्रदेश में गुंडागर्दी और संगठित अपराधियों के खिलाफ इसके तहत कार्रवाई की जाएगी।

2- संगठित अपराध की श्रेणी में रंगदारी और ठेकेदारी में गुंडागर्दी को भी शामिल किया गया है।

3- गैरकानूनी तरीके से कमाई गई संपत्ति भी इस कानून के दायरे में शामिल होगी। ऐसी संपत्ति को जब्त भी किया जा सकता है।

4- यूपीकोका से जुड़े मामलों की सुनवाई के लिए विशेष अदालतें बनाई जाएंगी।

5- यूपीकोका के मामलों की निगरानी उत्तर प्रदेश के गृह सचिव खुद करेंगे।

6- मंडल स्तर पर कमिश्नर या पुलिस महानिरीक्षक की संस्तुती पर इस तरह के मामले दर्ज किए जाएंगे।

7- यूपीकोका का मसौदा उन सभी राज्यों में गहन स्टडी के बाद किया गया है, जहां इस तरह के कानून पहले से लागू हैं।