उन्नाव गैंगरेप मामला: अफसर, पुलिस, डॉक्टर सबसे पूछताछ कर सकती है CBI

नई दिल्ली(13 अप्रैल): उन्नाव गैंगरेप मामले में घिरने के बाद यूपी की योगी सरकार ने केस को सीबीआई को सौंप दिया। सुबह 4.30 बजे के करीब ही सीबीआई ने आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर को हिरासत में लिया और तभी से ही पूछताछ जारी है। 

सीबीआई की इस टीम को राघवेंद्र वत्स लीड कर रहे हैं। राघवेंद्र वत्स लखनऊ सीबीआई की एंटी करप्शन ब्रांच यूनिट के एसपी हैं। सीबीआई की टीम अब माखी थाने पहुंची है, यहां पर पुलिस की भूमिका  की जांच की जाएगी। सीबीआई के चार अफसर माखी थाने पहुंचे हैं।

पिछले काफी दिनों से कुलदीप सिंह सेंगर लगातार बचते हुए आ रहा था। सीबीआई अब बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की मदद करने वालों अफसरों को भी दबोचेगी और पूछताछ करेगी। बताया जा रहा है कि सभी की कॉल डिटेल्स को खंगाला जाएगा, साथ ही सभी की मौजूदगी पर भी नज़र रखी जाएगी। इतना ही नहीं सीबीआई विधायक के साथी पुलिस अफसर भी गिरफ्तार किए जा सकते हैं।

सीबीआई इस मामले में कई बड़े अफसरों से पूछताछ करेगी। इसमें उन्नाव के एसपी, सीएमओ से भी पूछताछ हो सकती है। वहीं सफीपुर के सीओ, माखी के एसएचओ से भी सवाल-जवाब हो सकते हैं। सीबीआई अब जेल में बंद हत्या के आरोप और कुलदीप सिंह के भाई अतुल से भी पूछताछ भी करेगी। वहीं कई सह आरोपियों, जेल के अधिकारी और डॉक्टरों को भी तलब किया जा सकता है।