नौकरी की चिंता हुई खत्म, पढ़ाई के साथ प्लेसमेंट भी देंगी यूनिवर्सिटी !

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 जुलाई): अगर आप से कहा जाए कि अब आपको प्रशिक्षण के साथ नौकरी भी दी जाएगी, तो आप क्या सोचेंगे ? जी हां, उत्तर प्रदेश के विश्वविद्यालय में अब पढाई के साथ-साथ प्लेसेंट की भी गेरेंटी देगी। छात्रों को प्लेसमेंट देने के लिए एक सेल बनाया जायेगा जिससे इस कार्य को सुचारू रूप से लागू किया जा सके।

विश्वविद्यालय के नए सत्र के लिए उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री सीएम डॉ दिनेश शर्मा ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों, विश्वविद्यालयों के कुलपति, डीएम और एसएसपी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बात की। इस कॉन्फ्रेंसिंग के बाद डॉ दिनेश शर्मा ने कॉन्फ्रेंसिंग के बाद मीडिया को बताया कि कैम्पस प्लेसमेंट कराने के लिए सभी विश्वविद्यालयों को कहा गया  है। साथ ही कैम्पस में सुरक्षा व्यवस्था को ठीक करने के लिए भी आदेश दिया गया है। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में निजी क्षेत्र के विश्वविद्यालयों की स्थापना के लिए कुलपतियों की एक कमेटी का गठन किया गया है।

इसके साथ ही वोकेशनल कोर्स, फॉरेन लैंग्वेज कोर्स की भी सुविधा शुरू करने की बात कही गई है। इसके अलावा विश्वविद्यालयों में बुद्धिस्ट स्टडीज सेंटर खोलने की योजना बनाई जा रही है। आगे उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग की प्राथमिकता कैम्पस में पठन-पाठन, समय से रिजल्ट और छात्रों को रोजगार दिलवाना है। उन्होंने कहा कि ये भी तय कर दिया गया है कि किस महीने में कितना कोर्स और कितने लेक्चर होंगे। साथ ये भी तय किया गया है कि स्वकेंद्र व्यवस्था नहीं रहेगी। विश्वविद्यालय में शिक्षकों पर हुए हमले के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि अब माहौल बेहतर है।