प्रयागराज कुंभ: केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति बनेंगी महामंडलेश्वर



न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (30 दिसंबर): केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति को 2019 में प्रयागराज में होने कुंभ मेले में श्री पंचायती निरंजनी अखाड़े की महामंडलेश्वर बनाने की तैयारी हो गई है।  अखाड़े की छावनी में चादरविधि और वैदिक मंत्रोच्चार के बीच महामंडलेश्वर की पदवी म‍िलेगी। उसी दौरान न‍िरंजन ज्योति का पट्टाभिषेक होगा। साध्वी, निरंजनी अखाड़े की सोलहवीं महिला महामंडलेश्वर बनेंगी। साध्वी निरंजन ज्योति के अलावा और भी संतों के आवेदन आए पर उन की योग्यता को ध्यान में रखकर ये फैसला ल‍िया गया।

परंपरा के मुताबिक साध्वी को सबसे पहले अखाड़े के रमता पंचों की ओर से चादर ओढ़ाकर मान्यता दी जाएगी, फिर आचार्य महामंडलेश्वर निरंजन पीठाधीश्वर स्वामी पुण्यानंद गिरि उन्हें चादर ओढ़ाएंगे। इसी क्रम में अन्य अखाड़ों के प्रतिनिधि भी चादर ओढ़ाकर समर्थन देंगे। अखाड़े के आराध्य भगवान कार्तिकेय के विग्रह के पूजन-अर्चन और ‘पुकार’ में भेंट के साथ पट्टाभिषेक की प्रक्रिया पूरी होगी।

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और निरंजनी के अष्टकौशल महंत नरेंद्र गिरि महाराज के मुताबिक साध्वी निरंजन ज्योति का पट्टाभिषेक समारोह, अखाड़े के मेला क्षेत्र छावनी प्रवेश लेकिन मकर संक्रांति के शाही स्नान से पहले ही किया जाएगा। वहीं केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने भी कहा, संतों का प्यार है।’ इसी तरह राजनीति और अध्यात्म के  बीच ‘कैसे रहेगा तालमेल’ के सवाल पर बोलीं, ‘जैसे अब तक चल रहा है।’ फिलहाल अखाड़े की ओर से छावनी में पट्टाभिषेक समारोह की तैयारियां की जा रही हैं।

अभिषेक के बाद साध्वी निरंजन ज्योति निरंजनी अखाड़े की सोलहवीं महिला महामंडलेश्वर बन जाएंगी। बीते कुंभ पर्व में भी पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी ने महिला संत स्वामी निर्भयानंद पुरी को महामंडलेश्वर की पदवी सौंपी थी। अब तक निरंजनी में संतोषी गिरि, संतोषानंद सरस्वती, मां अमृतामयी, योग शक्ति सहित 15 महिला महामंडलेश्वर शामिल हैं।