मोदी के मंत्री के लिए बहाया गया 10 हजार लीटर पानी

भिवंडी (20 अप्रैल): देश में 33 करोड़ लोग सूखे की चपेट में हैं। बावजूद इसके हमारे नेताओं और मंत्रियों को इससे कोई फर्क पड़ता नहीं दिख रहा है। मोदी सरकार में कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह के लिए हजारों लीटर पानी बहाने का मामला सामने आया है। कृषि मंत्री का भिवंडी में किसानों के लिए कार्यक्रम था। 

मामला केंद्रीय मंत्री का था इसलिए भिवंडी में ही स्पेशल हैलीपेड बनवाया गया। जबकि ठाणे से भिवंडी जाने में महज बीस मिनट लगते हैं। ये तब है जब पूरा महाराष्ट्र सूखे की चपेट में है। हालात इतने खराब हैं कि ठाणे जिले में पानी कटौती साठ से सत्तर फीसदी होने जा रही है। लेकिन भाजपा नेताओं पर इसका कोई प्रभाव होता नही दिख रहा है। अब सवाल ये है कि क्या देश के कृषि मंत्री भी पानी का महत्व नहीं जानते।

पानी की बर्बादी की ये तस्वीरें महाराष्ट्र के भिवंडी की हैं। केन्द्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह किसानों के कार्यक्रम में पहुंचे थे। उनके हेलीपैड उतारने की व्यवस्था की गई। उसके लिए 10-20 या फिर 30 लीटर नहीं बल्कि 10 हजार लीटर पानी बर्बाद कर दिया गया। 

सवाल ये है कि आखिर जनता के ये नुमाइंदे जले पर मरहम लगाने के बजाए क्यों जले पर नमक छिड़क रहे हैं। जमीन पर रहकर क्यों जमीनी लोगों की दिक्कतें नहीं सुलझा रहे। 33 करोड़ लोग सूखे में जल रहे हैं और ये नेता उनके मन की बात नहीं सुन सकते।