LIVE: PM मोदी कल जाएंगे बेंगलुरु, अनंत कुमार के अंतिम संस्कार में होंगे शामिल

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 नवंबर): बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार का निधन हो गया है। मोदी सरकार में संसदीय कार्यमंत्री रहे अनंत कुमार 59 साल के थे। वो काफी समय से कैंसर से पीड़ित थे। वो बेंगलुरु के श्रीशंकर कैंसर हॉस्पिटल में भर्ती थे। अनंत कुमार साल 1996 से दक्षिणी बेंगलुरु का लोकसभा में प्रतिनिधित्व करते थे। उनके पास दो महत्वपूर्ण मंत्रालय थे और वह केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के कद्दावर मंत्रियों में से एक थे। 

ताजा अपडेट...

- PM मोदी कल जाएंगे बेंगलुरु, अनंत कुमार के अंतिम संस्कार में होंगे शामिल

- अनंत कुमार का कल शाम को होगा अंतिम संस्कार,  

- कर्नाटक में 3 दिन का राजकीय शोक, एक दिन का अवकाश

- अनंत कुमार के निधन पर कर्नाटक में आज राजकीय शोक, स्कूल, कॉलेज, ऑफिस बंद रहेंगे

अनंत कुमार के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री राजनाथ सिंह समेत तमाम नेताओं ने दुख व्यक्त किया है। अनंत कुमार के निधन पर शोक जताते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, 'अनंत कुमार का निधन देश के सार्वजनिक जीवन में बहुत बड़ी क्षति है, खासकर कर्नाटक के लोगों के लिए। उनके परिवार, सहयोगी और अनंत शुभेच्छुओं को मेरी सांत्वना।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अनंत कुमार एक असाधारण नेता थे और वह कम उम्र में ही समाज की सेवा के लिए सार्वजनिक जीवन में आ गए थे। वह हमेशा अच्छे कार्यों के लिए याद किये जाएंगे। पीएम मोदी ने कहा कि अनंत कुमार जी एक सक्षम प्रशासक थे, जिन्होंने कई मंत्री पदभार संभाला। वह बीजेपी संगठन के लिए बहुत महत्वपूर्ण थे। खासकर कर्नाटक में पार्टी को मजबूत बनाने के लिए जी-जान से काम किया। वह अपने क्षेत्र में हमेशा सर्वसुलभ भी रहते थे।

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा, अपने अति वरिष्ठ सहयोगी और मित्र के असामयिक निधन से दुखी और सदमे में हूं। वे एक मंझे हुए सांसद थे जिन्होंने अपनी पूरी काबिलियत से देश की भरपूर सेवा की. लोक कल्याण के लिए उनके जुनून और समर्पण की जितनी तारीफ की जाए, कम है। दुख की इस घड़ी में मैं उनके परिजनों के साथ हूं।

अनंत कुमार के निधन पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी दुख व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि, 'अनंत कुमार जी के निधन से मैं दुखी हूं। उनके परिजनों और मित्रों को मेरी सांत्वना. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। ओम शांति।'

आपको बता दें कि अनंत कुमार लंबे समय से कैंसर से पीड़ित थे और उनका इलाज चल रहा था। पिछले दिनों उन्हें बेंगलुरु लाया गया था और एक अस्पताल में इलाज चल रहा था। बताया जा रहा है कि उनकी तबीयत में सुधार भी हो रहा था लेकिन अचानक तबीयत फिर खराब हो गई और सोमवार को तड़के देहांत हो गया। अनंत कुमार के परिवार में उनकी पत्नी तेजस्विनी और बेटी ऐश्वर्या और विजेता हैं। जानकारी के मुताबिक अनंत कुमार का पार्थिव शरीर बेंगलुरु के नेशनल कॉलेज में रखा जाएगा। जहां लोग उन्हें आखिरी श्रद्धांजलि दे सकेंगे। 

आपको बता दें कि अनंत कुमार  के पास दो महत्वपूर्ण मंत्रालय थे। उनके पास साल 2014 से रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय था। साथ ही जुलाई 2016 में उन्हें संसदीय कार्यमंत्री का जिम्मा भी सौंपा गया था। अनंत कुमार का जन्म 22 जुलाई 1959 को बेंगलुरु में हुआ था। उन्होंने केएस आर्ट्स कॉलेज से बीए की पढ़ाई की थी। उसके बाद जेएसएस लॉ कॉलेज से एलएलबी की डिग्री भी हासिल की थी।