चीनी मिलों पर सरकारी शिकंजा, त्यौहारों पर नहीं बदलेगा अब शक्कर का स्वाद

नई दिल्ली (2 अगस्त): त्योहार सीजन चीनी की बढ़ती कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए सरकार ने अक्तूबर महीने के अंत तक चीनी मिलों पर स्टॉक सीमा लागू कर दी है। चीनी के डीलरों और थोक व्यापारियों पर पहले ही स्टॉक सीमा लागू है। चीनी मिलों पर स्टॉक सीमा लागू करने के फैसले से खुले बाजार में चीनी की उपलब्धता बढ़ेगी और कीमतों को नियंत्रित रखने में मदद मिलेगी।

खाद्य मंत्री रामविलास पासवान ने ट्वीट किया, चीनी मिलों द्वारा सितंबर और अक्तूबर 2016 के अंत तक रखे जाने वाले चीनी स्टॉक की सीमा तय की गई है। वर्ष 2013 के बाद यह पहला मौका है जब सरकार ने 80,000 करोड़ रुपए के कारोबार वाले चीनी उद्योग पर स्टॉक सीमा लागू की है। सरकार ने 2013 में चीनी उद्योग को आंशिक तौर पर नियंत्रणमुक्त किया था।