एमबीए-एमसीए जैसी प्रोफेशनल डिग्री वालों को भी चाहिए माली-धोबी की नौकरी !


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (26 दिसंबर): बेतहाशा बढ़ती जनसंख्या के बीच देश में बेरोजगारी की स्थिति भयावह होती जा रही है। आलम ये है कि बीटेक, एमबीए, एमसीए जैसी प्रोफेशनल डिग्री रखने वाले युवा भी माली और धोबी बनने के लिए बेकरार हैं। दरअसल दिल्ली पुलिस ने  पिछले दिनों मल्टी टास्किंग स्टाफ (एमटीएस) की 707 वेकेंसी ही निकाली थीं। इसके लिए तकरीबन 7.5 लाख युवाओं ने आवेदन किया है। इस भर्ती अभियान के तहत दिल्ली पुलिस में मोची, माली, धोबी, कुक, नाई, बढ़ई, वॉटर कैरियर, सफाई कर्मचारी और टेलर के पदों पर भर्ती है। इसके लिए शैक्षणिक योग्यता 10 वीं पास रखी गई है।



लेकिन सरकारी नौकरी की चाह में इन पदों के लिए बीटेक, एमबीए, एमसीए, बीबीए, एमएससी, एमए तक की डिग्री हासिल कर चुके युवाओं ने भी आवेदन किया है। इनमें 1200 के आसपास एमबीए डिग्री धारी हैं जबकि करीब 360 बीटेक वाले आवेदक हैं। इसी तरह तीन लाख से अधिक एमए, एमएससी डिग्री धारक हैं।  इन पदों के लिए तमिलनाडु, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, केरल से लेकर पंजाब, जम्मू-कश्मीर तक से आवेदन पहुंचे हैं।



फिलहाल 17 दिसंबर से 9 जनवरी तक अलग-अलग चरणों में लिखित परीक्षाएं चल रही हैं, जिसके बाद फिजिकल टेस्ट होगा। जानकारी के मुताबिक विभिन्न पदों के लिए एक ही लिखित परीक्षा करवाई जा रही है। परीक्षा का समय 90 मिनट का है, जिसमें 100 प्रश्न हल करने होते हैं। हर एक प्रश्न के लिए एक अंक निर्धारित है। ट्रेड टेस्ट 20 अंकों का होगा जिसमें से 10 अंक या उससे अधिक पाने वाले को ही पास घोषित किया जाएगा। लिखित एग्जाम के बाद फिजिकल एग्जाम होगा। उसी के बाद ट्रेड टेस्ट होगा, जो कि संबंधित ट्रेड के मुताबिक रखा जाएगा।