चौथी बार इतिहास रचने से एक कदम दूर टीम इंडिया

नई दिल्ली(10 फरवरी): बांग्लादेश में हो रहे अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम का शानदार फॉर्म जारी है। टीम इंडिया ने सेमिफाइनल में श्रीलंका को हराकर फाइनल में जगह बनाई। टीम इंडिया की नजर अब चौथे अंडर-19 वर्ल्ड कप खिताब पर है। 

ढाका में खेले गए पहले सेमीफ़ाइनल मुकाबले में भारत ने श्रीलंका को 97 रन से पराजित किया। 268 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंकाई टीम 170 रन पर ही ऑलआउट हो गई। श्रीलंका पर इस जीत के साथ भारतीय टीम 5वीं बार U-19 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचने में सफल हुई है, जिनमें तीन बार (2000, 2008 और 2012) वह चैंपियन बनी। भारत के अलावा अब तक सिर्फ पाकिस्तान की टीम पांच बार फाइनल तक का सफर तय कर सकी है।

भारतीय टीम इससे पहले 2000 में मो.कैफ की कप्तानी में पहली बार खिताब पर कब्जा किया था। इसके बाद 2008 में विराट कोहली की कप्तानी में द.अफ्रीका को हराकर दूसरी बार खिताब पर कब्जा किया। कैफ और कोहली के प्रदर्शन को दोहराते हुए 2012 में उनमुक्त चंद की कप्तानी में टीम इंडिया ने तीसरी बार खिताब पर कब्जा किया। अब सबकी नजर 2016 के विश्व कप फाइनल पर है, जब भारत चौथी बार इतिहास रचने के इरादे से मैदान पर उतरेगा।