U-19 वर्ल्ड कप फाइनल: दो 'भारतीय' कप्तानों के बीच लड़ाई

नई दिल्ली(3 फरवरी): अंडर-19 वर्ल्ड कप का फाइनल भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच अब से कुछ देर बाद खेला जाएगा। ये मुकाबला दो टीमों के बीच ही नहीं दो कप्तानों की बीच भी है। पृथ्वी शॉ जहां भारत के तो हैं ही, तो वहीं ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के कप्तान जेसन सांघा भी भारतीय मूल के हैं। ऐसे में ये मुकाबला दो भारतीय कप्तानों के बीच का है। 

जेसन जसकीरत सिंह सांघा के पिता कुलदीप सांघा पंजाब राज्य के भटिंठा से हैं। वह 1980 में पढ़ाई करने के लिए ऑस्ट्रेलिया चले गए थे। जेसन के पिता भी स्टेट लेवल के ऐथलीट रह चुके हैं। जेसन ऑस्ट्रेलिया की अंडर-19 टीम की कप्तानी करने वाले पहले भारतीय मूल के खिलाड़ी हैं। हालांकि, इस टीम में उनके अलावा भारतीय मूल के परम उप्पल भी शामिल हैं। उप्पल का जन्म चंड़ीगढ़ में हुआ है।

वर्ल्ड कप फाइनल की बात करें तो यह सीधा मुकाबला अब पृथ्वी शॉ और जेसन के बीच ही होगा। दोनों ने अपनी टीम को फाइनल में पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई है। टूर्नमेंट में ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने 5 मैच खेले हैं और 43.20 की औसत से 216 रन बनाए हैं। पृथ्वी शॉ की बात कें तो उन्होंने 5 मुकाबलों में 77.33 की औसत से 232 रन बनाए हैं। उनका बेस्ट स्कोर 94 रहा है, जो उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही बनाया था।