मोदी की लताड़ के बाद अब सुधरेगा यूनाइटेड नेशंस

नई दिल्ली (6 अप्रैल): आतंकवाद के मुद्दे पर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रहार से यूनाईटेड नेशंस बचाव की मुद्रा में आ गया है। यूनाईटेड नेशंस के प्रवक्ता फरहान हक ने कहा है कि आतंकवाद से निपटने के लिए यूनाईटेड नेशंस निश्चित रूप से जिम्मेदारी भरे कदम उठाने की कोशिश कर रहा है। फरहान हक ने कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री के बयान को महासचिव बान की मून ने गंभीरता से लिया है।

वो इस मुद्दे पर अपना पक्ष रखने के लिए और आतंकवाद से निपटने के तौर तरीकों में बदलाव के लिए जल्दी ही विश्व के नेताओँ का सम्मेलन बुलाने वाले हैं। यूनाईटेड नेशंस के प्रवक्ता ने यह भी कहा वो आतंकी कार्रवाई और आतंकियों को आर्थिक मदद देने वालों, दोनों की तीव्र भर्त्सना करते हैं, और विश्व समुदाय की प्रतिबद्धता को प्रोत्साहित भी करते हैं।

प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्रशेल्स में कहा था कि यूनाईटेड नेशंस आतंकवाद की परिभाषा ही नहीं जानता और न ही ये जानता है आतंकवाद से निपटने के लिए कौन से कदम उठाने जरूरी हैं। मोदी ने यह भी कहा था कि अगर आतंकवाद पर यूनाईटेड नेशंस का यही रवैया रहा तो यह जल्द ही अप्रसांगिक हो जायेगा। मोदी के इस चेतावनी भरे प्रहार से यूनाईटेड नेशंस में खलबली मची हुई है।