इस्लामोफोबिया और हेट स्पीच आतंक को बढा रहे हैं- UN सेक्रेटरी जनरल

नई दिल्ली(13 फरवरी): संयुक्त राष्ट्र के सेक्रेटरी जनरल एंटोनियो गुटेरेस ने रियाद में एक कार्यक्रम में कहा कि दुनिया में इस्लाम को लेकर बढ़ता डर टेररिज्म को बढ़ा रहा है। गुटेरेस ने ये भी कहा कि कुछ देशो में एंटी-इमिग्रेंट्स भावनाएं तेजी से बढ़ रही हैं। स

- गुटेरेस सऊदी अरब के दौरे पर पहुंचे थे।

- यहां उन्होंने सऊदी किंग सलमान, क्राउन प्रिंस और इंटीरियर मिनिस्टर मोहम्मद बिन नायेफ और डिप्टी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की थी।

- गुटेरेस ने सऊदी के फॉरेन मिनिस्टर अदेल अल-जुबेर के साथ एक ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "दुनिया के कुछ देशों में इस्लामोफोबिया (इस्लाम को लेकर डर) तेजी से बढ़ रहा है। इसी को लेकर वे पॉलिसीज बना रहे हैं। इस्लाम से नफरत करने वाली स्पीच दी जा रही हैं।"

- "ऐसा करने से दाएश को आसानी से सपोर्ट मिल जाता है।" बता दें कि सीरिया और इराक में सुन्नी आतंकियों के गुट को दाएश भी कहा जाता है।

- यही ग्रुप यूरोप और सऊदी अरब में कई हमले करने की जिम्मेदारी ले चुका है।

- गुटेरेस ने कहा, "कुछ देश एंटी-इमिग्रेशन पॉलिसी बना रहे हैं। फ्रांस के एक नेता मैरियन ला पेन को तो एंटी-इमिग्रेशन पॉलिटिशियन माना जाता है। हाल के दिनों में उनकी पॉपुलैरिटी बढ़ी है।"

- "यूएस प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प तो जनवरी में 7 मुस्लिम देशों के लोगों को रोकने के लिए के लिए एक ऑर्डर पास कर चुके हैं।"

- "हम सीरिया में आतंकवाद से लड़ने में तब तक कामयाब नहीं हो सकते जब तक सीरियाई लोगों के लिए कोई ठोस हल नहीं निकल आता।"

- बता दें कि सीरिया में चल रही जंग में अब तक 3 लाख 10 हजार से ज्यादा जान जा चुकी हैं। करीब 48 लाख लोगों को अपना घर छोड़कर जाना पड़ा है।