पाक में 95 फीसद युवाओं के पास नहीं है नौकरी, प्रति वर्ष बढ़ रहे 20 लाख बेरोजगार

नई दिल्ली  ( 13 फरवरी ): भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान में बेरोजगारी दिनों दिन बढ़ती जा रही है। पिछले दो दशकों में इसमें जबर्दस्त बढ़ोतरी देखी जा रही है। फिलहाल पड़ोसी देश में अकाउंटिंग/फाइनेंस, सेल्स/ मार्केटिंग और आईसीटी सेक्टर्स में सबसे ज्यादा नौकरियां हैं, लेकिन फिर भी कुल 5 प्रतिशत आवेदक ही बेहतर नौकरी हासिल कर पाते हैं। तकनीकी व्यवधान, विनिर्माण क्षेत्र का समय से पहले दबाव में आना और वहां ग्रोथ रेट गिरने के कारण बेरोजगारों की संख्या बढ़ती जा रही है।

मानवाधिकार संस्थाओं के मुताबिक पाकिस्तान में फिलहाल बेरोजगारी दर बहुत ज्यादा है। हर साल करीब 20 लाख युवा जॉब मार्केट में एंट्री करते हैं। हालांकि उनके पास इसे साबित करने के लिए कोई आंकड़ा नहीं है, लेकिन अनुमान के मुताबिक वहां बेरोजगारी दर 15 फीसदी है, जो 5.2 प्रतिशत के आधिकारिक से 3 फीसदी ज्यादा है। उनके मुताबिक इस मुद्दे को लंबे समय से दरकिनार किया गया, लेकिन अब इसपर सरकार को तुरंत एक्शन लेना चाहिए।

एक सर्वे में 65 साल और उससे ज्यादा की उम्र तक नौकरी कर रहे लोगों के बारे में पता किया गया। इसके मुताबिक 0.16 प्रतिशत लोग बेरोजगार हैं। इसमें बिना नौकरी वाली महिलाएं 0.05 प्रतिशत हैं। 15-19 साल की उम्र के बीच बेरोजगारी सबसे ज्यादा 1.26 प्रतिशत है। इस सर्वे के मुताबिक कृषि सेक्टर 47.7 प्रतिशत लोगों को नौकरी देता है, जबकि 33.9 प्रतिशत सर्विस सेक्टर और 22.4 प्रतिशत इंडस्ट्री में नौकरी करते हैं।