आतंकी के समर्थन में 'देशद्रोही'!, JNU छात्र उमर खालिद ने बुहरान को बताया क्रांतिकारी

नई दिल्ली (10 जुलाई): देशद्रोह के आरोपी छात्र उमर खालिद ने एक बार फिर जहर उगला है। इस बार उमर खालिद ने कल मारे गए आतंकी बुरहान वानी का समर्थन किया है। फेसबुक पर उमर खालिद ने लिखा कि बुरहान आजाद ही जिया और आजाद ही मरा।

खालिद ने लिखा कि भारत की सरकार उन लोगों को क्या मारेगी जिन्होंने अपने डरों को मार दिया हो। उमर खालिद ने आतंकी बुरहान की तुलना क्यूबा की क्रांति में मुख्य भूमिका निभाने वाले चे ग्वेरा की।

खालिद पर नौ फरवरी को जेएनयू में देश विरोधी बयानबाजी करने का आरोप भी है। इस मामले में 25 अप्रैल को यूनिवर्सिटी ने तीन अन्‍य छात्रों के साथ निकाल दिया था। खालिद को एक सेमेस्‍टर के लिए बाहर किया गया और 20 हजार का जुर्माना भी लगाया गया।