गंगा मैली करने वालों को मिलेगी कड़ी सज़ा, जल्द बनेगा क़ानून

नई दिल्ली (18 जुलाई) : केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने सोमवार को राज्यसभा में कहा कि गंगा नदी को मैला करने वाली इंडस्ट्रियल यूनिट्स के खिलाफ कड़ा कानून लाने पर विचार किया जा रहा है।

जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्री उमा भारती ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान पूरक सवालों के जवाब में कहा कि नदी में डाली जाने वाली पूजन सामग्री गंगा नदी के मैला होने की मुख्य वजह नहीं है। उन्होंने कहा कि यह पूजन सामग्री नदी की धारा के साथ बह जाती है।

उमा भारती ने कहा कि गंगा के मैला होने की मुख्य वजह इंडस्ट्रियल कचरा और सीवेज है। उन्होंने इनेलो के रामकुमार कश्यप के पूरक प्रश्न का जवाब देते हुए ये बात कही।