देश को 'हिंदू राष्ट्र' में बदलने के लिए RSS प्रमुख को राष्ट्रपति बनना चाहिए: ठाकरे


मुंबई(8 मई): शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने हाल ही में कहा था कि देश को 'हिंदू राष्ट्र' में बदलने के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत को भारत का अगला राष्ट्रपति बनना चाहिए। ठाकरे ने मीडिया से कहा कि हिंदू राष्ट्र का गठन प्राथमिक उद्देश्य है।


-उन्होंने कहा, "पहली बार हम (भाजपा की अगुवाई वाली एनडीए) इस तरह का एक मजबूत राजनीतिक जनादेश हासिल कर चुके हैं। हिंदू राष्ट्र का गठन प्राथमिक उद्देश्य है और इसलिए मोहन भागवत को भारत का अगला राष्ट्रपति बनना चाहिए।"


-ठाकरे ने कहा कि हिंदू राष्ट्र का गठन सभी हिंदुत्व सेनाओं का एक उद्देश्य है। यह तीसरी बार है कि जब शिवसेना प्रमुख ने भागवत को राष्ट्रपति उम्मीदवार के तौर पर अपना समर्थन देने की घोषणा की है।


-केंद्र और महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के सहयोगी दल शिवसेना ने देश के शीर्ष संवैधानिक पद के लिए राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन के उम्मीदवार के रूप में भागवत का नाम सुझाया था।


-शिवसेना ने कहा था कि आरएसएस मुख्यालय देश में "सत्ता का दूसरा सीट" बन गया है और संघ के अध्यक्ष भागवत को छोड़कर राष्ट्रपति पद के लिए कोई भी उपयुक्त नहीं है।


-बता दें ठाकरे ने अप्रैल में भी कहा था कि उन्होंने भागवत का नाम भारत के राष्ट्रपति पद के लिए सुझाया है। हालांकि उन्होंने शरद पवार के नाम पर अभी तक कोई चर्चा नहीं की। उन्होंने कहा पवार मोदी के गुरु हैं, किसी के दिल में क्या है कहा नहीं जा सकता।