शिवसेना का नया पैंतरा, कहा- भागवत नहीं तो स्‍वामीनाथन को बनाओ राष्ट्रपति

मुंबई (16 जून): एक तरफ जहां सरकार और बीजेपी राष्ट्रपति उम्मीदवार के नाम पर विपक्ष के साथ सहमति बनाने के जद्दोजहद में जुटी हुई है, वहीं उनके सहयोगी ने ही बीजेपी की मुश्किलें बढ़ रखी है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात से पहले शिवसेना ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए अब सरकार को नया नाम का सुझाव दिया है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने नया दांव खेलते हुए मशहूर कृषि वैज्ञानिक एमएस स्‍वामीनाथन का नाम आगे कर दिया है। इससे पहले शिवसेना ने संघ प्रमुख मोहन भागवत की उम्‍मीदवारी का समर्थन किया था। हालांकि खुद भागवत ने इस तरह की किसी भी संभावना को खारिज कर दिया।  


शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि हम हिन्दू राष्ट्र हैं, इसलिए मोहन भागवत हमारी पहली पसंद हैं। लेकिन अगर उनके नाम से कोई समस्या है, तो हम एमएस स्वामीनाथन का नाम सुझाएंगे। हिन्दु राष्ट्र के अलावा हम कृषि प्रधान राष्ट्र भी हैं। किसानों की समस्याओं का उनके पास हल है, तो फिर स्वामीनाथन क्यों नहीं?'


शिवसेना का कहना है कि स्वामीनाथन गैरराजनीतिक शख्स हैं और कृषि क्षेत्र में उनके योगदान को देखते हुए सभी पार्टियों के लिए वे स्वीकार्य होंगे। किसान लंबे वक्त से स्वामीनाथन रिपोर्ट की शिफारिशें लागू करने की मांग करती रही हैं, ऐसे में उनके राष्ट्रपति बनने से किसानों में अच्छा संदेश जाएगा।