2500 रुपये में इन 70 रूटों पर करें हवाई सफर, डेडलाइन तय


नई दिल्ली (12 मई): मोदी सरकार ने 2500 रुपये में हवाई सफर करने के लिए उड़ान स्कीम के तहत 70 रूट पर डेडलाइन तय कर दी है। सितंबर 2017 तक सभी रूट पर उड़ान स्कीम के तहत फ्लाइट सर्विस को शुरू कर दिया जाएगा।


केंद्र सरकार अप्रैल में दिल्ली-शिमला रूट के लिए उड़ान स्कीम के तहत फ्लाइस सर्विस पहले ही शुरू कर चुकी है। सरकार की प्लानिंग है कि इस स्कीम के तहत ज्यादा से ज्यादा लोग कम पैसे में हवाई सफर कर सकें। इसमें अधिकतम किराया 2500 रुपए तय किया गया है।


- उड़ान स्कीम के तहत जो 70 रूट तय किए गए हैं, उनमें सितंबर 2017 तक फ्लाइट सर्विस शुरू करने की डेडलाइन तय कर दी गई है।

- इसमें से 6 लोकेशन से जून में, 2 लोकेशन से जुलाई, 7 लोकेशन से अगस्त में और 7 लोकेशन से सितंबर में कई रूट के लिए फ्लाइट सर्विस शुरू करने का प्लान है।

- हाल ही में शिमला के लिए शुरू की गई फ्लाइट को जिस तरह से रिस्पॉन्स मिला है, उसे देखते हुए हमें उम्मीद है कि दूसरे रूट पर भी यूजर का अच्छा रिस्पॉन्स मिलेगा।

- अप्रैल में शिमला के लिए फ्लाइट सर्विस शुरू होने के 2-3 दिन में ही जून तक की बुकिंग हो गई है।


क्या है उड़ान स्कीम?

- सिविल एविएशन मिनिस्ट्री की रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम (RCS) या उड़ान स्कीम को पिछले साल अक्टूबर में सरकार ने लॉन्च किया था। यह सिविल एविएशन पॉलिसी- 2016 का हिस्सा थी। इसके तहत 500 km से कम के हवाई सफर पर 2500 रुपए किराया लिया जाएगा। इसके तहत हर फ्लाइट की आधी सीटें योजना के तहत तय कीमत पर बुक की जाएंगी। बाकी आधी सीटों के लिए एयरलाइंस को मार्केट बेस्ड कीमत तय करने की छूट होगी।


पहले चरण में दिल्ली समेत उत्तर भारत के कानपुर, आगरा, लुधियाना, बठिंडा, शिमला, पठानकोट, आदमपुर, जमशेदपुर जैसे शहरों को शामिल किया गया है।


दूसरे चरण में बठिंडा-दिल्ली, लुधियाना-दिल्ली, पठानकोट-दिल्ली, कुल्लू-दिल्ली, कानपुर-दिल्ली, पंतनगर-देहरादून, जमशेदपुर-कोलकाता, आगरा-जयपुर।