Blog single photo

पाकिस्तान में एक दिन में दो धमाके- 23 मरे, 70 से ज्यादा घायल

पाकिस्तान में शुक्रवार को दो बड़े धमाकों में 23 लोगों की मौत हो गयी जबकि 70 से ज्यादा के घायल होने की खबर है। पाकिस्तानी मीडिया सूत्रों के मुताबिक मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। पाकिस्तान में पहला धमाका क्वेटा के हजरंगजी इलाके में हुआ। क्वेटा अशांत बलूचिस्तान की राजधानी है। जबकि दूसरा धमाका अशांत बलूचिस्तान के ही चमन शहर के माल रोड में शाम के समय हुआ।

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली(12 अप्रैल): पाकिस्तान में शुक्रवार को दो बड़े धमाकों में 23 लोगों की मौत हो गयी जबकि 70 से ज्यादा के घायल होने की खबर है। पाकिस्तानी मीडिया सूत्रों के मुताबिक मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। पाकिस्तान में  पहला धमाका क्वेटा के हजरंगजी इलाके में हुआ। क्वेटा अशांत बलूचिस्तान की राजधानी है। जबकि दूसरा धमाका अशांत बलूचिस्तान के ही चमन शहर के माल रोड में शाम के समय हुआ। यह धमाका उस वक्त हुआ जब पाकिस्तान फ्रंटियर कॉर्प्स का वाहन माल रोड से गुजर रहा था। पाकिस्तान के सरकारी सूत्रों के अनुसार इस धमाके में दो लोगों के मारे जाने और लगभग एक दर्जन घायल होने की खबर है। दोनों धमाकों की जिम्मेदारी अभी तक किसी भी गुट ने नहीं ली है।  क्वेटा के डीआईजी अब्दुल रज्जाक चीमा ने मीडिया को बताया कि 'पीड़ितों में हजारा और पश्तूनों जैसे अन्य समूह के लोग शामिल हैं।' जियो न्यूज ने बताया कि बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी क्वेटा के हजारागंजी इलाके में हुए बम विस्फोट में मारे गए लोगों में से कम से कम 8 लोग हजारा समुदाय के थे। सुरक्षा बलों को आशंका है कि मरने वालों की संख्या और  बढ़ सकती है।

एक अधिकारी ने बताया कि हजर गंजी हमले में फ्रंटरियर कॉर्प्स का एक अफसर मारा गया है और कई जवान भी घायल हुए है।   पुलिस ने कहा कि विस्फोट में आसपास की इमारतों को भी नुकसान पहुंचा है। सुरक्षा बलों ने विस्फोट स्थल की घेराबंदी कर दी है। किसी भी समूह ने अब तक हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। पाकिस्तान सरकार के मुताबित हजर गंजी और चमन के माल रोड पर हुए दोनों धमकों में आईईडी का इस्तेमाल किया गया था। हजरगंजी में आईईडी सब्जियों के बीच छिपा कर रखा गया था, जबकि चमन में विस्फोटक को एक मोटर साइकिल में फिट किया गया था।Image:Google

Tags :

NEXT STORY
Top