हरियाणा पुलिस भर्ती टेस्ट में 'ड्रग ओवरडोज़' से दो अभ्यर्थियों की मौत

नई दिल्ली (25 जून): हरियाणा पुलिस में भर्ती के लिए हुए टेस्ट के दौरान दो अभ्यर्थियों की ड्रग ओवरडोज़ की वजह से मौत हो गई। इन्होंने अपने प्रदर्शन को बेहतर करने के लिए ड्रग्स का सेवन किया था। इसके अलावा दो अन्य को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

'डीएनए' की रिपोर्ट के मुताबिक, लोकनायक जयप्रकाश सिविल हॉस्पिटल (एलएनजेपी) के सुपरींटेंडेंट डॉ मुकेश कुमार ने बताया कि एक अभ्यर्थी की मौत अस्पताल में ही हुई। जबकि, दूसरे की मौत चंडीगढ़ के पोस्टग्रैजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रीसर्च (पीजीआईएमईआर) में हुई।

पीजीआईएमआईआर में जिस युवक की मौत हुई, उसकी पहचान सोमवीर नाम से हुई है। जो भिवाड़़ी जिले का रहने वाला है। इसके अलावा हिसार के रहने वाले दूसरे युवक की मौत एलएनजेपी हॉस्पिटल में हुई। सूत्रों के मुताबिक, अस्पताल में करीब 54 लोगों को नशे की हालत में भर्ती कराया गया है।

मौके पर पहुंचे इंस्पेक्टर दिलीप सिंह ने मामले में कार्रवाई करते हुए पूछताछ शुरू कर दी है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, हरियाणा पुलिस में 10 हजार पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया 15 जून से 4 जुलाई के दौरान चल रही है। जिसमें करीब 5 लाख उम्मीदवारों के शामिल होने का अनुमान है। उम्मीदवारों को 25 मिनट में 25 किलोमीटर की दूरी तय करना है। जो चुने जाने के लिए अनिवार्य शर्त है।

हालांकि, कुरुक्षेत्र डेप्यूटी कमिश्नर राजनरायण कौशिक ने बताया कि भर्ती केंद्र में डोप टेस्ट करने की कोई सुविधा मौजूद नहीं है। जिसकी वजह से नवयुवक प्रतिबंधित ड्रग्स का इस्तेमाल करने के लिए प्रेरित होते हैं। जो अपना शारीरिक प्रदर्शन बेहतर करना चाहते हैं। पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के बाद शवों को उनके परिजनों को सौंप दिया है।