मालदीव संकट: कवरेज कर रहे दो भारतीय पत्रकार गिरफ्तार


नई दिल्ली ( 9 फरवरी ):
मालदीव में राजनीतिक संकट गहराता जा रहा है। मालदीव में रिपोर्टिंग कर रहे दो भारतीय पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया है। दोनों ही पत्रकार एएफपी न्‍यूज एजेंसी के लिए काम करते हैं। 

रिपोर्ट के मुताबिक अमृतसर के मनी शर्मा और लंदन में रहने वाले भारतीय मूल के पत्रकार आतिश रावजी पटेल को गिरफ्तार किया गया है। इन्हें मालदीव के राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत गिरफ्तार किया गया है। 

इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए मालदीव के सांसद अली जहीर ने कहा है कि 'अब यहां प्रेस की स्वतंत्रता नहीं बची है। पिछली रात एक टीवी चैनल को भी बंद कर दिया गया। हम तत्काल इनकी रिहाई और देश में लोकतंत्र की बहाली की मांग करते हैं।' आपको बता दें कि भारत का पड़ोसी देश मालदीव राजनीतिक संकट के दौर से गुजर रहा है।

इस घटना पर विदेश मंत्रालय की प्रतिक्रिया भी सामने आ गई है। विदेश मंत्रालय ने कहा है कि पत्रकार मनी शर्मा को हिरासत में लिए जाने की जानकारी मिली है। मालदीव में भारतीय दूतावास को मामले की ज्यादा जानकारी के लिए स्थानीय प्रशासन से संपर्क बनाने को कहा गया है। 

बता दें कि मालदीव सरकार ने 15 दिन के लिए इमरजेंसी का ऐलान किया है। इस आदेश के बाद सुरक्षाकर्मियों को किसी भी संदिग्‍ध को गिरफ्तार करने की अतिरिक्‍त ताकत मिली है। सरकार संसद को पहले ही सस्‍पेंड कर चुकी है। साथ ही राष्‍ट्रपति अब्‍दुल्‍ला यामीन पर महाभियोग लाने के सुप्रीम कोर्ट के किसी भी कदम को रोकने के लिए सेना को आदेश दिया गया है। 

सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व राष्‍ट्रपति मोहम्‍मद नशीद के खिलाफ ट्रायल को असंवैधानिक करार दिया था। इसके अलावा विपक्ष के नौ सांसदों को रिहा करने का आदेश भी जारी किया था। इसके चलते सरकार और सुप्रीम कोर्ट के बीच तकरार बढ़ गई थी।