काबुल में हुए आतंकी हमलों में दो भारतीयों की मौत, दोनों देहरादून के निवासी

नई दिल्ली (21 जून): अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हुए कई धमाकों में 25 लोगों की मौत हो गई, जिसमें दो भारतीय शामिल हैं। धमाके ऐसे समय में हुए हैं,जब अमेरिका ने तालिबान के खिलाफ हवाई हमले बढ़ाने के लिए अपनी सेना के अधिकार के विस्तार की घोषणा की है।   भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा, हमें पता चला है कि काबुल में हुए विस्फोट में दो भारतीय  गोविंद सिंह और गणेश थापा की मृत्यु हो गई। दोनों देहरादून के रहने वाले थे। 

उन्होंने कहा, सरकार भारतीय नागरिकों के परिवारों के संपर्क में है और उनके शवों को जल्द से जल्द भारत लाने के लिए अफगान सरकार के साथ मिलकर काम कर रही है। अफगानिस्तान में पहला हमला उस समय हुआ, जब एक तालिबानी आत्मघाती हमलावर ने काबुल में विदेशी सुरक्षा कर्मियों को ले जा ही एक मिनीबस पर जलालाबाद की ओर जाने वाली मुख्य सड़क के पास हमला किया।

तालिबान ने दक्षिणी काबुल में हुए एक दूसरे छोटे विस्फोट की भी जिम्मेदारी ली है, जबकि तीसरा विस्फोट दूरस्थ बदख्शान एक बाजार में हुआ। बता दें कि, इससे पहले विस्फोट में काबुल स्थित कनाडाई दूतावास के लिए काम कर रहे 14 नेपाली सुरक्षा कर्मियों की भी मौत हो गयी।