एक-एक रुपये को तरसता था किसान, अकाउंट में आए 2 करोड़

नई दिल्ली (27 दिसंबर): नोटबंदी के बाद जहां काला धन रखने वाले परेशान है, वहीं ऐसे लोगों की किस्मत भी चमक रही है जो एक-एक पैसे को मोहताज थे। मामला बिहार के छपरा से है, जहां पर किसान जिंदगी भर एक-एक रुपए के लिए तरसता रहा, लेकिन एक रात में वह करोड़पति बन गया।

इस किसान के खाते में अचानक दो करोड़ रुपए आ गए तो उसके भी होश उड़ गए। छपरा विकास सिंह के खाते में पहले से महज 17 हजार रुपये थे। जब वह एक सप्ताह पूर्व अपने खाते से 500 रुपया निकलने बैंक आया तो बैंककर्मियो ने कहा कि तुम्हारे खाते में 2 करोड़ 17 हजार रुपये जमा कराए गए हैं इसलिए तुम्हारा खाता सीज कर दिया गया है।

बैंककर्मियो ने उसका पासबुक भी ले लिया और कहा कि एक सप्ताह बाद आना अभी पासबुक का वेरीफिकेशन होगा। किसान का बैंक अकाउंट तरैया स्थित भारतीय स्टेट बैंक में है। हालांकि पासबुक से रुपये नहीं मिलने और रुपये निकासी पर रोक लगाने के बाद विकास परेशान है।