चीन के दो लड़ाकू विमानों ने अमेरिकी विमान रास्ता रोका, भड़का यूएस

नई दिल्ली ( 27 मई ): साउथ चाइना सी को लेकर अमेरिका और चीन के बीच तनाव बढ़ गया है। एक बार फिर अमेरिकी प्लेन के उड़ान में चीन ने बाधा डाला है। नेवी का सर्विलांस प्लेन P-3 साउथ चाइना के ऊपर इंटरनेशनल एयरस्पेस में उड़ान भर रहा था, उसी दौरान वहां चीन के 2 फाइटर प्लेन आ पहुंचे।


पेंटागन ने कहा कि एक सप्ताह में यह दूसरी बार है जब चीन के विमान ने इस तरह का उल्लंघन किया है। अधिकारी के अनुसार अमेरिकी पी-3 ओरियान निगरानी विमान दक्षिण चीन सागर में हांगकांग से 150 मील दूर इंटरनेशन एयरस्पेस में उड़ान में था। इस दौरान चीन के विमानों ने बाधा पहुंचाई। रक्षा अधिकारी ने कहा कि चीन का जे-10 लड़ाकू विमान अमेरिकी विमान से महज 200 यार्ड की दूरी में 100 फीट की उड़ान पर था।


दूसरा चीनी लड़ाकू विमान पी-3 के 750 यार्ड के दायरे में था। अधिकारियों ने इस तरह की उड़ानों पर और अधिक जानकारी देने से इनकार किया। नेवी कमांडर गैरी रॉस ने कहा कि अमेरिकी पी-3‌ विमान इंटरनेशनल स्पेस में उड़ रहा था। उन्होंने कहा कि अमेरिका इसे गंभीरता से लेते हुए इस पर चीन के अधिकारियों से बात करेगा।  


उल्लेखनीय है कि दक्षिण चीन सागर पर अधिकार को लेकर चीन और अमेरिका के बीच विवाद है। चीन को अपने क्षेत्र में अमेरिकी अतिक्रमण की आशंका है। अमेरिका ने हालांकि इस तरह के अतिक्रमण से इनकार किया है।