अमेरिकी ड्रोन ने पाकिस्तान में घुस कर फिर मारे 2 आतंकी

नई दिल्ली (3 मार्च): ट्रंप के आते ही अमेरिका की पाकिस्तान नीति सामने आने लगी है। अफगानिस्तान से उड़ कर आये ड्रोन ने पाकिस्तानी इलाके में घुस कर हमला किया और दो आतंकियों को मार गिराया। इनमें से एक अफगानिस्तानी तालिबान का सीनियर कमाण्डर क़ारी अब्दुल्लाह सुबारी बताया जाता है। जबकि दूसरे का नाम शाकिर है। ये दोनों मोटरसाइकिल पर सवार थे। 

यूएस आर्मी को पता चला था कि हाल ही में अफगानिस्तान में हुए आतंकी हमलों का जिम्मेदार तालिबान कमाण्डर पाकिस्तान में शरण लेने जा रहा है। उसकी निशानदेही होते ही अमेरिकी ड्रोन ने उसका काम तमाम कर दिया।  पाकिस्तानी मीडिया ने इस हमले को 'सस्पेक्टेड ड्रोन' हमला करार दिया है। जबकि पाकिस्तान सरकार की ओर से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है। ध्यान रहे, 21 मई 2016 को मुल्ला मंसूर को इसी तरह मारे जाने पर पाकिस्तान सरकार ने अपनी संप्रभुता पर हमले की संज्ञा देते हुए तीखी प्रतिक्रिया की थी और अमेरिका को जबाबी हमले की धमकी भी दी थी। मगर इस बार पाकिस्तान की रहस्यमयी चुप्पी ने सबको हैरत में डाल दिया है।