MP: HIV पॉजिटिव प्रेग्नेंट महिला को वार्ड से निकाला, जन्मीं जुड़वां बच्चियों की मौत

भोपाल(7 सितंबर): मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ में जिला अस्पताल से एचआईवी पॉजीटिव गर्भवती महिला को बुधवार आधी रात वार्ड से बाहर निकाल दिया गया। उसने अस्पताल परिसर में ही जुड़वां बच्चियों को जन्म दिया। 

- घर वाले दोनों के इलाज के लिए गिड़गिड़ाते रहे, लेकिन एचआईवी इन्फेक्शन के डर के कारण डॉक्टर और नर्स ने नवजात बच्चों को हाथ तक नहीं लगाया। लिहाजा इलाज न होने के चलते दोनों बच्चों की मौत हो गई।

- टीकमगढ़ जिले के पिपरा गांव से गर्भवती महिला को लेकर उसके परिजन रात करीब 10 बजे डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल पहुंचे थे।

- ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर और नर्स ने जांच के लिए ब्लड सैंपल लिया। जांच के दौरान हैपेटाइटिस और एचआईवी के पॉजीटिव लक्षण मिले।

- रिपोर्ट देखते ही नर्सों ने महिला के परिजनों से उसे बाहर ले जाने को कह दिया। इस पर परिजनों ने कहा कि सुबह उसे झांसी ले जाएंगे तो कर्मचारियों ने एक नहीं सुनी।

- इस मामले में हॉस्पिटल के आला अफसर प्री-मेच्योर डिलीवरी की बात कहकर पल्ला झाड़ने में लगे हैं।

- सीएमएचओ डॉ. वर्षा राय ने कहा, "दोनों बच्चियां साढ़े 6 महीने की थीं। प्री-मेच्योर डिलीवरी के कारण उनके अंग पूरी तरह से डेवलप नहीं हुए थे। सांस लेने में तकलीफ के चलते उनकी मौत हो गई।"