तुर्की में 'इमरजेंसी'

नई दिल्ली (21 जुलाई): तुर्की सरकार ने देश में तीन महीने के लिए आपातकाल की घोषणा की है। पिछले सप्ताह तख्तापलट की नाकाम साजिश के बाद कई सरकारी टीचर्स और एम्प्लॉईज़ को बर्खास्त करने के बाद तुर्की ने ये बड़ा कदम उठाया है।

- प्रेसीडेंट रेचप तैयब अर्दोआन ने कहा कि यह कदम तुर्की के लोकतंत्र को बचाने के लिए जरूरी है। - हालांकि, मानवाधिकार समूहों का कहना है कि अर्दोआन के कठोर कदम देश की लोकतांत्रिक परंपरा के लिए खतरा हैं। - सरकार ने शिक्षा मंत्रालय के 22,000 एम्प्लॉईज़ को बीते दिन बर्खास्त किया था।  - बड़ी संख्या में सेना और पुलिस अधिकारियों को भी बर्खास्त किया गया।