पद्मावती: भंसाली की फिल्म में काम कर चुके इस एक्टर ने राजपूतों का किया समर्थन

नई दिल्ली ( 11 फरवरी ): पद्मावती को लेकर निर्देशक संजय लीला भंसाली पर कुछ दिनों पहले राजस्थान में फिल्म शूटिंग के दौरान हुए हमले की बॉलीवुड के अधिकतर कलाकारों ने कड़ी निंदा की है और अब उनमें शरद केलकर भी शामिल हो गए हैं, लेकिन शरद राजपूतों के पक्ष को भी गलत नहीं मानते। हालांकि विरोध करने का उनके तरीके को भी गलत बताते हैं।

शरद ने संजय लीला भंसाली की फ़िल्म गोलियों की रास लील राम लीला में बेहद अहम रोल निभाया था। भंसाली पर हुए अटैक को लेकर वो कहते हैं- ''मेरे कई दोस्त राजपूत हैं और उनका नजरिया सही है। किसी शख्स के लिए उनकी फिक्र और भावनाएं सही हैं, जिसे आहत नहीं किया जाना चाहिए।'' खबरों के मुताबिक शरद ने कहा कि फिल्मों को ज्यादा कमर्शियल बनाने के लिए चीजों को तोड़-मरोड़कर पेश किया जाता है।

बताते चलें कि जनवरी में जब भंसाली पद्मावती की शूटिंग जयपुर के जयगढ़ किले में कर रहे थे तो राजपूत करणी सेना के कुछ लोगों ने सेट पर घुसकर हंगामा किया था। शूटिंग उपकरण तोड़ डाले थे और भंसाली के साथ धक्का-मुक्की भी की। उनका आरोप था कि फिल्म में रानी पद्मवती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच ड्रीम सीक्वेंस में प्रेम प्रसंग दिखाया जा रहा है, जिसका बाद में भंसाली की टीम ने खंडन किया।

शरद आगे कहते हैं- ''हमलों की हम निंदा करते हैं। आप संपत्ति को नुकसान पहुंचा रहे हैं, लोगों को पीट रहे हैं, ये सही नहीं है। किसी के साथ मारपीट करना कानून के खिलाफ है और स्वीकार्य नहीं है।'' शरद को लगता है कि संबंधित लोगों से बातचीत करके मसला सुलझाया जाना चाहिए। शरद कहते हैं- ''अगर किसी को फिल्म से समस्या है तो अदालत के जरिए या साइलेंट प्रदर्शन या संबंधित अथॉरिटीज के पास जाकर सुलझाया जा सकता है।''